मोबाइल चार्जर: बैटरी पर्याप्त लंबी क्यों नहीं है? यहां बताया गया है कि कंपनी कैसे चुनें

Prakash Gupta
3 Min Read

मोबाइल चार्जर के तार की लंबाई छोटी क्यों होती है: आजकल हर किसी के पास मोबाइल फोन है और इसके बिना किसी का वक्त नहीं कटता। वैसे अगर मोबाइल न हो तो कुछ लोगों के जरूरी काम भी रुक जाते हैं. मोबाइल कंपनियां भी लोगों की जरूरतों को देखते हुए लगातार नए-नए प्रयोग कर रही हैं। आपने अपने मोबाइल की तकनीक और डिजाइन में कई बदलाव देखे होंगे, लेकिन एक चीज है जो हमेशा एक जैसी रहती है और वह है मोबाइल चार्जर की लंबाई।

आपने देखा होगा कि मोबाइल चार्जर का तार बहुत छोटा होता है, लेकिन ऐसा क्यों होता है? मोबाइल कंपनी द्वारा चार्जर का तार हमेशा छोटा रखा जाता है और इसकी लंबाई कम होने के कारण चार्ज करते समय बिस्तर पर बैठकर फोन चलाया भी नहीं जा सकता है।

अगर आपके मन में भी ये सवाल कई बार आया है तो हम आपको बता दें कि इसके पीछे एक खास वजह है। तार की छोटी लंबाई का मतलब है कि फोन से निकलने वाले एसएआर विकिरण से बचा जा सकता है। कुछ रिपोर्ट्स में कहा गया है कि कंपनियां ऐसा इसलिए करती हैं ताकि यूजर्स चार्जिंग के दौरान स्मार्टफोन का इस्तेमाल न करें।

अगर चार्जर का तार छोटा हो तो लोग मोबाइल को चार्जर में डालकर बात नहीं कर पाते क्योंकि ऐसा करना खतरनाक हो सकता है। अगर चार्जर का तार छोटा है तो संभावना है कि लोग चार्जिंग के दौरान फोन का इस्तेमाल कर सकते हैं।

जब चार्जिंग केबल की बात आती है तो सुरक्षा सबसे महत्वपूर्ण बात है। लंबे केबलों में ओवरहीटिंग और वोल्टेज गिरने का खतरा अधिक होता है, जिससे बिजली से संबंधित दुर्घटनाएं हो सकती हैं या डिवाइस को नुकसान हो सकता है।

मोबाइल फोन चार्जर को ले जाने के लिए पोर्टेबल बनाया गया है। छोटी केबल अधिक कॉम्पैक्ट होती है और इसे कहीं भी आसानी से समायोजित किया जा सकता है। चार्जर केबल बनाने में कंपनी को कई दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। इसलिए पैसे बचाने के लिए भी कंपनी छोटी केबल वाले चार्जर बनाना चाहती है।

Share This Article