छत्तीसगढ़ की खबरे

डिप्टी कमिश्नर के कमरे में हंगामा, निलंबित क्लर्क ने दी गंदी गालियां, पुलिस ने दर्ज किया FIR Uproar in deputy commissioner’s room, suspended clerk gave filthy abuses, police registered FIR

रायपुरः आदिम जाति कल्याण विभाग की कमिश्नर के कमरे में एक सस्पेंडेड क्लर्क ने जोरदार हंगामा मचाया। इससे डायरेक्ट्रेट में हड़कंप मच गया। डिप्टी कमिश्नर के साथ अभद्र व्यवहार किया। गंदी गालियां दीं। इस मामले में पुलिस ने क्लर्क के खिलाफ एफआईआर दर्ज किया है। पुलिस ने डिप्टी कमिश्नर की रिपोर्ट पर क्लर्क के खिलाफ गाली-गलौज, जान से मारने की धमकी और शासकीय कार्य में बाधा का अपराध दर्ज किया है।

जानकारी के मुताबिक आदिम जाति एवं अनुसूचित जाति विभाग में पदस्थ क्लर्क बीएस अय्यर को काम में लापरवाही के आरोप में कुछ दिनों पहले सस्पेंड किया गया है। उसे निर्वाह भत्ता नहीं मिल रहा था। इसके लिए वह डायरेक्ट्रेट पहुंचा था और बिना अनुमति के कमिश्नर के कमरे में घुस गया।

ये लिखा है एफआईआर में

मैं फ्लोरल सिटी डूंडा रायपुर में रहता हूं। आदिम जाति एवं अनुसूचित जाति विकास विभाग इंद्रावती भवन में उपायुक्त के पद पर कार्यरत हूं। 26 अप्रैल को करीबन 12.30 बजे अपने कार्यालय के कक्ष में था। उसी समय बीएस अय्यर निलंबित लिपिक कार्यालय में आकर आयुक्त शम्मी आबिदी मैडम के कक्ष में अनाधिकृत रूप से घुसकर निर्वाह भत्ता भुगतान करने के लिए अभ्रद तरीके से व्यवहार किया। उस समय मैं उपस्थित था।

इसके पश्चात बीएस अय्यर मेरे कक्ष में आकर मुझसे निर्वाह भत्ता दिलाने के लिए गंदी-गंदी गालियां देकर और जान से मारने की धमकी देकर मुझे अपमानित कर मानसिक रूप से प्रताड़ित किया और शासकीय कार्य में बाधा पहुंचाया। घटना को कार्यालय मे उपस्थित आरएस भोई अपर संचालक, भंवर देवांगन स्टेनो, लोकनाथ प्रधान स्टेनो, लोकेश वार्म भृत्य, रामाधार भृत्य व विजेंद्र गिरी देखे और सुने हैं।

Related Articles

Back to top button