पेंड्रा में त्रिस्तरीय पंचायत सम्मेलन संपन्न : घोषणाओं की लगी झड़ी

पेंड्रा में त्रिस्तरीय पंचायत सम्मेलन संपन्न : घोषणाओं की लगी झड़ी

भारतीय लोकतंत्र में पंचायती राज व्यवस्था को प्रमुख आधार स्तम्भ माना गया है। जिला, जनपद व ग्राम पंचायत इस त्रिस्तरीय पंचायत के माध्यम से सरकार के हर योजनाओं का क्रियान्वन होता है। जब तक इन तीनो में समन्वय न हो किसी राज्य अथवा ग्राम का विकास सम्भव नहीं होगा। सम्भवतः इसी उद्देश्य को लेकर छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार भी इस त्रिस्तरीय पंचायत राज सम्मेलन का आयोजन जिला गौरेला पेंड्रा मरवाही में किया गया।

” alt=”” aria-hidden=”true” />

स्थानीय मंडी प्रांगण में आयोजित इस कार्यक्रम में गौरेला, पेंड्रा व मरवाही जनपद के सभी निर्वाचित पंच सरपंच से लेकर जिला व जनपद के सदस्य इस कार्यक्रम में उपस्थित हुए। त्रिस्तरीय पंचायत कनिर्वाचित प्रतिनिधियों ने सभी अपनी अपनी बातें मंत्रीगण के माध्यम से सरकार तक रखें।

कार्यक्रम की छत्तीसगढ़ के राजकीय गीत ‘अरपा पैरी की धार’ की धुन के साथ शुरू हुआ। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए  मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने कहा कि मरवाही विधानसभा में 100 करोड़ से अधिक विकास कार्यों की निविदाएं लग गई हैं। उन्होंने कहा कि नवीन जिले में सभी भवनों का निर्माण भी अब शुरू होगा। उन्होंने कहा कि पंचायत प्रतिनिधियों के सभी मांगो का समर्थन करते हुए मुख्य मंत्री भूपेश बघेल तक ले जाने की बात कही। उन्होंने चाय चौपाल को सफल बताते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ में यह अब तक का अपने तरह का पहला सफल कार्यक्रम था। उन्होंने कहा कि जो आवेदन अभी भी आएंगे उनका भी निराकरण किया जाएगा। मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने कहा कि यह चाय चौपाल मरवाही विधानसभा में ही नहीं अपितु कोटा विधानसभा में भी चाय चौपाल लगाकर जिले के विकास की बात कही।उन्होंने कहा कि हम लोग राजनीति नहीं अपितु जनसेवा कर रहे हैं।

” alt=”” aria-hidden=”true” />

जयसिंह अग्रवाल ने कहा कि गौरेला पेंड्रा मरवाही से मेरा खास लगाव है और यहाँ मैं अपने विधानसभा से भी ज्यादा दौरा कर रहा हूँ। उन्होंने गौरेला के कोरजा ग्राम पंचायत के आश्रित ग्राम बालधार को नया राजस्व ग्राम बनाने की घोषणा की। जयसिंह अग्रवाल ने कहा कि वे दलगत राजनीति से ऊपर उठकर इस जिले के विकास में कोई कोर कसर नहीं छोड़ेंगे। वहीं प्रेम साय टेकाम ने कहा कि शिक्षा के क्षेत्र में इस जिले में कोई कमी नहीं होगी। यहाँ के शिक्षा को हम लोग नई ऊंचाइयों तक ले जाएंगे। मंत्री प्रेमसाय सिंह ने बरौर मरवाही, बंसीताल, गिरवर, खोडरी में संचालित छात्रावासों में अतिरिक्त कमरे की स्वीकृत दी। इसके साथ दर्जनों छात्रावासों के सीट बढ़ाने की स्वीकृति दी। इसके साथ जिले में ही बोर्ड मूल्यांकन की घोषणा की।पंडरी हाई स्कूल को हाई सेकंडरी में उनयन, मरवाही क्षेत्र के तेन्दुमूड़ा में हाई स्कूल, हाई सेकंडरी स्कूल भर्रीडाड़ में कृषि संकाय खोलने, साकोला में क्रीड़ा केंद्र की स्थापना की घोषणा की।

कार्यक्रम में जिले के प्रभारी मंत्री जयसिंह अग्रवाल, स्कूल शिक्षा मंत्री प्रेमसाय टेकाम, पाली तनाखार के विधायक मोहित केरकेट्टा, कांग्रेस प्रवक्ता आरपी सिंह, जिला पंचायत अध्यक्ष अरुण सिंह चौहान, पूर्व विधायक पहलवान सिंह, जिला पंचायत उपाध्यक्ष हेमकुवर श्याम, कांग्रेस नेता उत्तम वासुदेव, जिला कांग्रेस अध्यक्ष मनोज गुप्ता, गुलाब राज, गौरेला जनपद के अध्यक्ष ममता पैकरा, उपाध्यक्ष सविता राठौर, पेंड्रा जनपद के अध्यक्ष आशा मरावी, उपाध्यक्ष जीवन सिंह राठौर, मरवाही जनपद के अध्यक्ष प्रताप सिंह, उपाध्यक्ष अजय राय, जिला पंचायत सदस्य शुभम पेन्द्रो, जनकी सरराठी, संगीता करसायल, पुष्पेश्वरी सिंह, कांग्रेस नेता अभय सिंह, जिला महिला कांग्रेस अध्यक्ष गजमति भानु, गजरूप सिंह, मोहन लाल शुक्ला, बाला कश्यप, प्रशांत श्रीवास, अमोल पाठक, नरेंद्र राय, अमन शर्मा, मनीष केशरी, शंकर पटेल, दया वाकरे, सहित जिले के सभी अला अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Live Updates COVID-19 CASES