बिहार में बन रहा है देश का सबसे लंबा सड़क पुल.

Prakash Gupta
2 Min Read

डेस्क: भारत का सबसे लंबा पुल बिहार में बन रहा है. इस पुल के बनने से सुपौल-मधुबनी के बीच की दूरी 30 किलोमीटर कम हो जायेगी. 10.2 किलोमीटर लंबे महासेतु के निर्माण की गति तेज कर दी गई है. इसे कोसी नदी पर मधुबनी के भेजा और सुपौल के बकौर के बीच बनाया जा रहा है.

यह पुल असम के भूपेन हजारिका पुल से करीब एक किलोमीटर लंबा है। इसका उद्घाटन साल 2023 में होना था, लेकिन कोरोना के कारण इसमें देरी हुई और अब इसका उद्घाटन मार्च 2024 में संभव है, लेकिन इसमें कुछ और देरी हो सकती है.

बिहार में कोसी नदी लगातार अपना रास्ता बदल रही है. दोनों पुलों के बीच की दूरी बहुत ज्यादा है. खासकर, बाढ़ के दौरान इसके किनारे चौड़े हो जाते हैं। 3.1 किलोमीटर की एप्रोच रोड का भी निर्माण किया जाना है। जिसमें बकौर की ओर से 2.1 किमी और भेजा की ओर से लगभग 1 किमी एप्रोच पथ का निर्माण किया जा रहा है.

सुपौल जिले के बकौर और मधुबनी जिले के भेजा के बीच कोसी पर बन रहे इस मेगा पुल का सिरा दोनों तरफ के तटबंधों (पूर्वी और पश्चिमी) से सीधे जुड़ रहा है. यह देश का सबसे लंबा एक्सप्रेसवे होगा। आपको बता दें कि भारतमाला प्रोजेक्ट फेज 5 के तहत बन रहे इस पुल का 54 फीसदी काम पूरा हो चुका है और इसके इसी साल पूरा होने की संभावना है.

इस पुल में कुल 171 पिलर का निर्माण किया जा रहा है। इनमें से 166 खंभे पूरे हो चुके हैं। बकौर की तरफ 36 और भेजा की तरफ 87 खंभे होंगे। इसमें बकौर की ओर से 2.1 किमी और भेजा की ओर से 1 किमी एप्रोच रोड का निर्माण किया जाना है।

Share This Article