बिहार में के. पाठक का आतंक जारी! अब शिक्षकों की उपस्थिति रजिस्टर में बड़ा बदलाव हुआ है….

Prakash Gupta
2 Min Read

केके पाठक समाचार: बिहार में शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव केके पाठक ने बड़ा फैसला दिया है. केके फाटक का यह फैसला उन शिक्षकों के लिए बड़ा झटका होगा जो स्कूल जाने के समय को लेकर मनमानी करते हैं और स्कूल आने के बाद भी क्लास नहीं लेते हैं.

केके फाटक ने शिक्षकों की वर्षों पुरानी उपस्थिति व्यवस्था को खत्म करते हुए नया फरमान जारी किया है। उन्होंने शिक्षा पदाधिकारी को पत्र भेजकर शिक्षकों की नयी उपस्थिति व्यवस्था की जानकारी दी. आपको बता दें कि केके पाठक ने बताया कि यह व्यवस्था अगले साल 1 जनवरी से लागू हो जाएगी.

केके पाठक ने एक बड़ा फैसला लिया है.

शिक्षा विभाग की नियमित समीक्षा के दौरान केके पाठक ने शिक्षकों की उपस्थिति व्यवस्था को लेकर अहम फैसला लिया है. केके पाठक ने शिक्षा पदाधिकारी को पत्र जारी कर निर्णय लिया है कि अब विद्यालय में शिक्षकों द्वारा अपनाई जाने वाली पुरानी उपस्थिति प्रणाली को समाप्त कर दिया जायेगा.

उन्होंने कहा कि अब पूरे साल 12 रजिस्टरों में शिक्षकों की उपस्थिति दर्ज की जायेगी. पहले एक ही रजिस्टर में 12 महीनों के 12 पन्ने होते थे, जिसमें शिक्षक अपने हस्ताक्षर और स्कूल जाने का समय दर्ज करते थे। जिसे अब बदला जाएगा.

नई व्यवस्था का अनुपालन न होना

केके पाठक की ओर से जारी नए नियमों के मुताबिक, शिक्षक और स्कूल स्टाफ अब हर दिन एक पेज में अपनी उपस्थिति दर्ज कराएंगे. रजिस्टर का दूसरा पेज अगले दिन इस्तेमाल किया जाएगा। नए नियम के मुताबिक अब शिक्षक रजिस्टर पर अपने हस्ताक्षर के साथ स्कूल आने का समय भी बताएंगे कि उन्होंने दिन भर में कितने घंटे पढ़ाई की. और उन्होंने क्या सिखाया? यह व्यवस्था इसी साल 1 जनवरी से लागू होगी. इन नियमों का पालन नहीं करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Share This Article