छत्तीसगढ़ की खबरे

RAIPUR ! रविवि के कुलपति और कुलसचिव की सरकारी गाड़ी जब्त, किराए की गाड़ी से चला रहे काम RAIPUR ! Government car of Ravi’s Vice Chancellor and Registrar confiscated, working on rented car

रायपुरः छत्तीसगढ़ के पंडित रविशंकर शुक्ल यूनिवर्सिटी के कुलपति और कुलसचिव की सरकारी गाड़ी जब्त कर ली गयी है। अब किराए की गाड़ी में ही दोनों का काम चल रहा है। इतना ही नहीं आने वाले दिनों में यूनिवर्सिटी की टेबल, कुर्सियां, आलमारियां और एयर कंडिशनर, कम्प्यूटर तक जब्त किये जा सकते हैं। दरअसल यूनिवर्सिटी ने साल 2005 में किसानों की जमीन अधिग्रहित की थी और इसके एवज में उन्हे मुआवज़ा दिया गया, लेकिन कुछ सालों बाद 31 किसान मुआवज़ा कम मिलने को लेकर कोर्ट चले गए।

साल 2017 में कोर्ट से ये फैसला दिया गया कि किसानों को और मुआवज़ा दिया जाए, जिसके लिए यूनिवर्सिटी ने शासन से मुआवज़े के लिए राशि देने की मांग की, लेकिन शासन ने इंकार कर दिया। इसके बाद किसानों को अब तक ना उनकी जमीन मिल पायी और ना ही मुआवजा। ऐसे में कोर्ट ने यूनिवर्सिटी की चल सम्पत्ति को कुर्क करने का आदेश दिया है। इसके तहत कुलपति और कुलसचिव की गाड़ियां जब्त कर ली गई हैं। इसके बाद तरह-तरह की चर्चाएं शुरू हो गई हैं। आने वाले समय में अन्य सामाग्री भी जब्त की जा सकती है। हालांकि यूनिवर्सिटी प्रबंधन जल्द ही मामले के निपटारे की कोशिश में लगा है।

पैसे देने में यूनिवर्सिटी ने जताई असमर्थता
इधर यूनिवर्सिटी के कुलसचिव गिरिशकांत पाण्डेय का कहना है कि 30 करोड़ रुपये की राशि बढ़े हुए मुआवज़े के रूप में दी जानी थी, लेकिन इतनी बड़ी राशि यूनिवर्सिटी नहीं दे सकती। लिहाज़ा अब किसानों की ज़मीन वापस लौटाने का फैसला लिया गया है। जल्द ही जमीन वापसी की प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी। इसके लिए कागजी कवायद की जा रही है। बता दें कि इस वक्त यूनिवर्सिटी में कुलपति केसरी लाल वर्मा और कुलसचिव गिरिशकांत पाण्डेय किराये की गाड़ी से ही काम चला रहे हैं। बताया जा रहा है कि मामले में निपटारे तक उनकी गाड़ियां जब्त ही रहेंगी।

Related Articles

Back to top button