गर्व! महज 25 साल की उम्र में किसान बेटा बना DSP, खुशी से उछल पड़ी मां

Prakash Gupta
3 Min Read

आशुतोष त्यागी: देश में हर साल कई लोग आईएएस, आईपीएस और डीएसपी बनकर उभरते हैं। ऐसे कई छात्र हैं जो सामान्य परिवारों से आते हैं और अपनी कड़ी मेहनत से सफलता हासिल करते हैं। इसी कड़ी में मध्य प्रदेश पीएससी के नतीजों में सामान्य परिवार के आवेदकों ने बाजी मारी है.

इसी तरह सीहोर के आशुतोष त्यागी का चयन डीएसपी पद पर हुआ है। खास बात यह है कि अनुराग एक किसान परिवार से आते हैं और उन्होंने कड़ी मेहनत के बाद यह मुकाम हासिल किया है. नतीजों के बाद परिवार और गांव में खुशी का माहौल है. गांव और तमाम रिश्तेदार आशुतोष को बधाई दे रहे हैं।

आशुतोष त्यागी ने डीएसपी का पदभार संभाला

सीहोर जिले के टिटोरा गांव के रहने वाले आशुतोष त्यागी एक किसान के बेटे हैं। 25 साल की उम्र में उनका चयन मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग की राज्य सेवा परीक्षा 2019 में डीएसपी पद के लिए हुआ है. इस गौरवपूर्ण उपलब्धि पर परिवार में खुशी का माहौल है। अपने सफर के बारे में बात करते हुए उन्होंने कहा कि वह हर दिन 10 से 12 घंटे पढ़ाई करते थे. ग्रामीण परिवेश में पले-बढ़े आशुतोष अपनी सफलता का श्रेय अपनी कड़ी मेहनत और धैर्य को देते हैं।

वह अपनी सफलता का श्रेय अपने पिता को देते हैं

त्यागी ने अपनी सफलता का श्रेय अपने दादा मोहनलाल त्यागी से मिले मार्गदर्शन और प्रेरणा को दिया। उन्होंने अपनी सफलता के लिए परीक्षा की तैयारी के दौरान अपने चाचा दीपक त्यागी द्वारा दिए गए प्रोत्साहन को भी याद किया। उन्होंने कड़ी मेहनत, अपनी बुद्धिमत्ता और लोगों से मिले मार्गदर्शन और साहस को अपनी प्रेरणा का स्रोत बताया। यह सब उन्हें हमेशा प्रेरित करता रहा और तैयारी के दौरान निराश नहीं होने दिया।

आशुतोष का चयन डेढ़ साल पहले ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी के पद पर हुआ था और वर्तमान में वह इसी पद पर कार्यरत हैं। आशुतोष की शुरुआती पढ़ाई गांव में ही हुई और आगे की पढ़ाई के लिए वह सीहोर चले गए। इसके बाद उन्होंने बीएससी की पढ़ाई पूरी की। वह इंदौर से सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी कर रहा था।

Share This Article