अब बच्ची का भविष्य सुरक्षित है. जन्म से लेकर पढ़ाई तक का सारा खर्च सरकार उठाएगी

Prakash Gupta
2 Min Read

बालिका समृद्धि योजना: भारत सरकार ने लड़कियों की शिक्षा के लिए कई योजनाएं शुरू की हैं। बेटियां पढ़-लिखकर अपने पैरों पर खड़ी हो सकें और अपना भविष्य बेहतर बना सकें, इसके लिए भारत सरकार ने एक और नई योजना शुरू की है। हम आपको इस योजना के बारे में सारी जानकारी बताते हैं।

कई योजनाओं में से एक है 'बालिका समृद्धि योजना'. इस योजना के तहत भारत सरकार बालिका के जन्म से लेकर उसकी उच्च प्राथमिकता तक आर्थिक मदद करती है।

केंद्र सरकार ने निर्णय लिया कि बेटियों का भविष्य संवरे और वे पढ़-लिखकर अपने पैरों पर खड़ी हो सकें। यह योजना 1997 में शुरू की गई थी। इस योजना का लाभ केवल वही लड़कियां उठा सकती हैं जो गरीबी रेखा से नीचे आती हैं। भारत सरकार के अनुसार बालिका के जन्म से लेकर उसकी दसवीं कक्षा की शिक्षा तक का पूरा खर्च भारत सरकार द्वारा वहन किया जाता है।

यदि किसी गरीबी रेखा से नीचे के परिवार में लड़की का जन्म होता है तो उसे जन्म के समय भारत सरकार द्वारा ₹500 की आर्थिक सहायता दी जाती है। वहीं, दसवीं कक्षा तक लड़की की शिक्षा का पूरा खर्च भारत सरकार वहन करती है।

तो हम आपको बताते हैं कि इस योजना का लाभ लेने के लिए आपके पास कौन से दस्तावेज होने चाहिए। आपके पास आधार कार्ड, राशन कार्ड, जन्म प्रमाण पत्र, माता-पिता का पहचान पत्र, आय प्रमाण पत्र, निवास प्रमाण पत्र, बैंक पासबुक और पासपोर्ट साइज फोटो होना चाहिए।

इस योजना का लाभ लेने के लिए आप ऑनलाइन या ऑफलाइन दोनों तरह से फॉर्म भर सकते हैं। अगर आप ऑफलाइन फॉर्म भरना चाहते हैं तो आप अपने नजदीकी आंगनवाड़ी या स्वास्थ्य केंद्र पर जाकर फॉर्म भर सकते हैं। इस योजना का लाभ ग्रामीण और शहरी दोनों लड़कियां उठा सकती हैं।

Share This Article