health

मानसूनी बारिश में कभी न करें ये 10 गलतियां, नहीं तो हो जाएगा बड़ा नुकसान, जानें पूरी डिटेल



नई दिल्लीः जुलाई का महीना मानसूनी बारिश के दृष्टिकोण से बहुत महत्वपूर्ण होता है। नदी, तालाब और नालेे जो प्यासे होते हैं, उनमें भी पानी भर जाता है। प्राकृतिक सुंदरता भी सर चढ़कर लोगों को अपनी ओर आकर्षित करती है। इस मौसम में सबसे ज्यादा बीमारियां भी बढ़ जाती है, जिससे आपको बड़ा नुकसान भी हो जाता है। सर्दी-खांसी जुकाम, बुखार जैसी बीमारियां मानसून के मौसम में आम हैं, जो बड़ी बीमारियों की वजह बन जाती हैं।

आइए इन चीजों के बारे में जानते हैं जो आपको नहीं करना चाहिए…

1- रोड साइड स्टॉल में खाना न खाएं

मिड लाइफ की खबर के अनुसार बारिश के मौसम में तेलीय और मसालेदार भोजन करने की इच्छा होती है, लेकिन हर तरह से, फास्ट फूड और स्ट्रीट स्टॉल में खाने से बचें, क्योंकि ये गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल समस्याओं को आकर्षित करने का सबसे आसान तरीका है। इस मौसम में केवल अच्छी तरह से पका हुआ घर का बना भोजन और स्नैक्स ही खाएं।

2- गीले होने पर एसी रूम में न जाएं

यदि आप भीगकर घर या धफ्तर में आ रहे हैं तो किसी भी कीमत पर अपने वातानुकूलित कार्यालय या कमरे में प्रवेश न करें। यह बुखार, खांसी और का कारण भी बन सकता है. एसी रूम में काम शुरू करने से पहले खुद को पूरी तरह से सुखा लें।

3- बारिश में भीगने से बचें

बारिश में बच्चों को भीगना अच्छा लगता है। यही कारण है कि बच्चे घरों के बाहर आकर बारिश में भीगने लगते हैं। लेकिन ये बारिश स्वास्थ को नुकसान पहुंचाती है। इससे आप या आपके बच्चे गले में खराश, नाक बहने, बुखार, सर्दी- खासी का शिकार हो सकते हैं। इसलिए आपको बारिश में भीगने से बचना चाहिए, घर से बाहर जाने पर छाता साथ लेकर जाएं।

4- बीमार लोगों से बचें

आप मानसून के मौसम में सभी तरह की सावधानियों को बरतते हैं, लेकिन अगर आप बीमार व्यक्ति से दूरी नहीं बनाते तो सबकुछ बेकार है। बीमार व्यक्ति से संपर्क में आने से वायरस या कोई बीमारी आपको भी हो सकती है, बीमारी से बचने और संक्रमण को रोकने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग भी जरूरी है।

5- गंदे हाथों से अपना चेहरा न छुएं

बाहर से जब आप घर लौटते हैं तो आपके हाथों में सैकड़ों रोगाणु होते हैं। इसलिए कभी भी अपने गंदे हाथों से अपना मुंह, आंख, कान को न छुएं। ऐसा करने से सूक्ष्मजीव आपके शरीर में प्रवेश कर सकते हैं, इसलिए हैंड वाश या साबुन से अपने हाथों को जरूर धोएं।

6- घर के आसपास पानी जमा न होने दें

जल जमाव एक सामान्य चीज है, जिसे हम मानसून में देख सकते हैं। आसपास के खाली पड़े टैंक, टायर, कचरा के डिब्बे, बोतल, फूलों के बर्तन में पानी में जमा हो सकता है। ऐसे में साफ सफाई रखें, आसपास कोई ऐसी चीज न रखें जिसमें पानी भरें और मच्छर पैदा हों।

7- खुद को मच्छरों से बचाएं

मच्छर बारिश के दिनों का हिस्से होते हैं। ऐसे में मच्छरों को भगाने वाली क्रीम लगाएं। रात में सोते समय मच्छरदानी का प्रयोग करें और अपने घर के दरवाजों और खिड़कियों पर मच्छरदानी लगाएं।

8बच्चों को पोखरों में खेलने ना जाने दें

मानसून के दौरान बच्चे पानी के पोखरों में खेलना पसंद करते हैं, लेकिन इसके साथ ही बुखार, सर्दी और गले में खराश का खतरा बना रहता है, क्योंकि यहां संक्रामण हो सकता है जो दस्त, हैजा, टाइफाइड और अन्य जल जनित रोगों का कारण बनते हैं. बच्चों को पोखर में खेलने जाने देना सही नहीं है।

9- एलर्जी से बचें

यदि आपको धूल और धुएं के कणों से एलर्जी है, तो बारिश के मौसम में इनसे बचें। यदि आप उनके संपर्क में आते हैं और एलर्जी की प्रतिक्रिया का शिकार होते हैं, तो बीमार पड़ने की अधिक संभावना होती है।

10- नाखून को दांतों से ना काटें

नाखून के भीतर कई तकह के कीटाणु जमा होते हैं, इसलिए लिए नाखून को दांतों से नहीं काटना चाहिए। ऐसा करने से कीटाणु मुंह के जरिए पेट में चले जाते हैं, इससे आप बीमार हो सकते हैं। इसलिए नेल कटर का उपयोग करके नाखूनों को काटें।

 

The post मानसूनी बारिश में कभी न करें ये 10 गलतियां, नहीं तो हो जाएगा बड़ा नुकसान, जानें पूरी डिटेल appeared first on News 24.

Live Share Market

One Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Live Updates COVID-19 CASES
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker