नवोदय विद्यालय: नवोदय विद्यालय में प्रवेश कैसे लें? कितनी है फीस?

Prakash Gupta
3 Min Read

जवाहर नवोदय विद्यालय में प्रवेश: भारत में शिक्षा सदैव प्राथमिकता रही है। वहीं आज के समय में हर कोई अपने बच्चों को बेहतर शिक्षा देना चाहता है. इसके लिए कई निजी और सरकारी स्कूल हैं जहां लोग अपने बच्चों का भविष्य बनाने के लिए उन्हें भेजते हैं। जवाहर नवोदय विद्यालय उनमें से एक है।

यह एक सरकारी स्कूल है, जिसमें बच्चों को बेहतर शिक्षा और अनुशासित जीवनशैली दी जाती है। प्रवेश के लिए प्रवेश परीक्षा आवश्यक है। यह एक सरकारी स्कूल है. ऐसे में यहां फीस देने की जरूरत नहीं है, लेकिन 11वीं और 12वीं के बच्चों के लिए कुछ फीस तय की गई है. आइए विस्तार से जानते हैं जवाहर नवोदय विद्यालय से जुड़ी सभी प्रक्रियाएं।

कितनी फीस लगेगी?

जवाहर नवोदय विद्यालय में कक्षा 6 से 8 तक की पढ़ाई के लिए कोई शुल्क नहीं है। सामान्य और अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) के छात्रों को कक्षा 9 से 600 रुपये प्रति माह शुल्क देना होगा। जिनके माता-पिता सरकारी कर्मचारी हैं उन्हें शुल्क देना होगा। कक्षा 9 से 12 तक के लिए 1,500 रुपये प्रति माह। इसके अलावा लड़कियों, अनुसूचित जाति (एससी) और अनुसूचित जनजाति (एसटी) वर्ग के छात्रों की शिक्षा मुफ्त है।

शैक्षणिक सत्र 2024-25 के लिए जवाहर नवोदय विद्यालयों में प्रवेश के लिए प्रवेश प्रक्रिया शुरू हो गई है। कक्षा 6, 9 और 11 में प्रवेश के लिए प्रवेश परीक्षा जनवरी और फरवरी में आयोजित होने वाली है। कक्षा 6 के लिए प्रवेश परीक्षा 20 जनवरी को होगी। इसके लिए प्रवेश पत्र जारी कर दिए गए हैं। कक्षा 9 और 11 के लिए प्रवेश परीक्षा 10 फरवरी को होगी।

जवाहर नवोदय विद्यालयों में आरक्षण नियम

प्रत्येक स्कूल में 75 प्रतिशत सीटें ग्रामीण क्षेत्रों के उम्मीदवारों के लिए आरक्षित हैं। वहीं अनुसूचित जाति और जनजाति के बच्चों को जिले की जनसंख्या के अनुपात में आरक्षण देने का नियम है. लेकिन राष्ट्रीय अनुपात 15% एससी और 7.5% एसटी से कम और 50% (दोनों को जोड़कर) से अधिक नहीं होना चाहिए। इसके अलावा कुल सीटों में से एक तिहाई सीटें लड़कियों के लिए आरक्षित करने का नियम है.

Share This Article