खेल / टेक्नोलॉजी

IPL 2022: चेन्नई पहले मैच में ही चित, कोलकाता ने 6 विकेट से हराकर किया दमदार आगाज IPL 2022: Chennai in the first match itself, Kolkata made a strong start by defeating 6 wickets

आईपीएल 2022 सीजन (IPL 2022) का आगाज ऐसे नतीजे के साथ हुआ, जिसकी उम्मीद कम ही लोगों ने लगाई होगी. पिछले सीजन के फाइनल के रिप्ले के साथ शुरू हुए नए सीजन में चैंपियन चेन्नई सुपर किंग्स को उप-विजेता कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR beats CSK) ने 6 विकेट से हरा दिया.

नए कप्तानों की इस टक्कर में कोलकाता के कप्तान श्रेयस अय्यर ने बाजी मारी और रवींद्र जडेजा को अपने पहले ही मैच में निराशा मिली. कप्तानी छोड़ने के बाद पहला मैच खेल रहे एमएस धोनी (MS Dhoni Half Century) ने रिकॉर्डतोड़ अर्धशतक जमाया लेकिन ये भी चेन्नई को बचाने के लिए काफी साबित नहीं हुआ. CSK से मिले सिर्फ 132 रन के लक्ष्य को कोलकाता ने 19वें ओवर में ही हासिल कर लिया.

मुंबई के वानखेडे स्टेडियम में शनिवार 26 मार्च को शुरू हुए नए सीजन में नतीजा उम्मीदों और अनुमानों से अलग रहा, लेकिन मुकाबले की शुरुआत कुछ वैसी रही, जैसी समझी जा रही थी. यहां बात हो रही है तेज गेंदबाजों के लिए मददगार पिच की. टॉस जीतकर कोलकाता के कप्तान अय्यर ने पहले गेंदबाजी का फैसला किया और जैसा कि माना जा रहा था, वानखेडे की पिच ने शुरुआत में पेसरों की मदद की और वहीं पर कोलकाता ने मैच पर अपनी पकड़ बना ली.

उमेश यादव के बनाई जीत की बुनियाद

पिछले आईपीएल सीजन में बेंच पर बैठे तेज गेंदबाज उमेश यादव ने नए सीजन में अपनी नई टीम (असल में पुरानी टीम) में आकर रंग जमा दिया. रफ्तार और उछाल के कारण कई बार नुकसान झेल चुके उमेश को इस बार फायदा हुआ और उन्होंने पावरप्ले में अपने 3 ओवरों में ही टीम की पकड़ मजबूत कर दी. पारी के पहले ओवर में उमेश ने पिछले सीजन के ऑरेंज कैप जीतने वाले ओपनर ऋतुराज गायकवाड़ को तीसरे ओवर में ही पवेलियन भेज दिया. फिर अपने तीसरे ओवर में IPL के नए-नवेले कीवी ओपनर डेवन कॉनवे भी उनका शिकार हो गए.

इस बीच रॉबिन उथप्पा ने कुछ अच्छे स्ट्रोक्स खेले, लेकिन शेल्डन जैक्सन ने तूफानी रफ्तार से उन्हें स्टंप आउट कर दिया और फिर देखते ही देखते चेन्नई ने तीन और विकेट गंवा दिए और टीम का स्कोर 61 रन पर 5 विकेट हो गया. 11 ओवर भी खत्म हो गए थे.

धोनी का पुराना अंदाज

यहां से कप्तान जडेजा को साथ मिला पूर्व कप्तान धोनी का. अपनी क्लीन स्ट्राइकिंग के लिए मशहूर जडेजा तो गेंदों को सही से खेल पाने में संघर्ष कर रहे थे, लेकिन धोनी ने शुरुआत में कुछ देर जमने के बाद बल्ले की धार दिखाई. धोनी ने सिर्फ 38 गेंदों में नाबाद 50 रन (7 चौके, 1 छक्का) बनाए. KKR ks के लिए उमेश यादव (2/20) सबसे सफल रहे, जबकि वरुण चक्रवर्ती और आंद्रे रसेल को एक-एक विकेट मिले.

रहाणे का आक्रामक आगाज

गेंदबाजी के बाद बल्लेबाजी में भी कोलकाता के लिए बेहतरीन शुरुआत हुई. वेंकटेश अय्यर के साथ नए ओपनर आए अजिंक्य रहाणे ने आक्रामक आगाज किया. दोनों ने 6.2 ओवरों में 43 रन जोड़े जिसमें रहाणे ज्यादा तेजी से रन बना रहे थे. ड्वेन ब्रावो ने इस अय्यर को आउट कर ये साझेदारी तोड़ी. इसके बाद नीतीश राणा ने भी 21 रनों के योगदान से टीम को जीत की ओर मजबूती से बढ़ाया. वह भी ब्रावो का शिकार हुए.

दूसरी छोर से रहाणे बेहतरीन पारी खेल रहे थे, जिसमें उन्होंने खूबसूरत एक्स्ट्रा कवर ड्राइव लगाया, स्ट्रेट ड्राइव लगाया और एक करारा हुक शॉट खेलकर छक्का जड़ा. वह अपने अर्धशतक की ओर बढ़ रहे थे, लेकिन सैंटनर ने पारी खत्म कर दी. हालांकि 34 गेंदों में 44 रन (6 चौके, 1 छक्का) बनाकर रहाणे टीम के लिए अपना काम कर चुके थे.

यहां से कोलकाता की जीत तय थी और कप्तान श्रेयस अय्यर (20 नाबाद) ने सैम बिलिंग्स के साथ मिलकर CSK की वापसी की किसी भी उम्मीद को खत्म कर दिया. KKR के लिए डेब्यू कर रहे बिलिंग्स (25) ब्रावो का तीसरा शिकार बने, लेकिन तब तक उनका काम पूरा हो चुका था. अय्यर ने 19वें ओवर की दूसरी गेंद पर चौका जमाकर जीत हासिल की.

Related Articles

Back to top button