भारतीय रेलवे: ये ट्रेनें एलएचबी कोच से लैस होंगी। ट्रेन का सफर होगा आसान, जानिए…

Prakash Gupta
2 Min Read

रेलवे: अब राजस्थान की पश्चिमी सीमा पर बसे बाड़मेर से लेकर दूरदराज के इलाकों तक भी ट्रेन में यात्रियों के लिए सुविधाएं बढ़ाई जा रही हैं. पहली बार बाड़मेर से दिल्ली होते हुए मथुरा तक चलने वाली ट्रेन में एलएचबी कोच लगाए जाएंगे.

ट्रेन नंबर 20487/20488 बाडमेर-दिल्ली-बाड़मेर और ट्रेन नंबर 20489/20490 बाडमेर-मथुरा-बाड़मेर के कोचों में अत्याधुनिक एलएचबी (लिंक हॉफमैन बुश) कोच लगाए गए हैं, जो अत्याधुनिक होंगे। -कला सुविधाएं.

रेलवे ने बाडमेर-दिल्ली-बाड़मेर और बाडमेर-मथुरा-बाड़मेर रूट पर चलने वाली ट्रेनों में एलएचबी रेक लगाने का प्रस्ताव दिया है. अब 8 जनवरी से ये सभी ट्रेनें एलएचबी कोच के साथ चलेंगी. इससे यात्रियों को काफी मदद मिलेगी. जोधपुर मंडल रेल प्रबंधक पंकज कुमार सिंह ने बताया कि गाड़ी संख्या 20487/20488 बाडमेर-दिल्ली-बाड़मेर एक्सप्रेस रेलसेवा 8 जनवरी 2024 से बाडमेर से एवं 9 जनवरी 2024 से दिल्ली से एलएचबी रेक के साथ संचालित की जायेगी.

एलएचबी कोच बेहद आरामदायक होंगे

8 जनवरी से बाडमेर दिल्ली बाडमेर और बाडमेर मथुरा बाडमेर ट्रैक पर चलने वाली ट्रेनों में एलएचबी के 16 कोच संचालित किए जाएंगे। ये कोच पुराने ICF कोचों से कहीं अधिक आरामदायक होंगे. इससे ट्रेन की स्पीड बढ़ जाएगी. एलएचबी कोच में डबल सस्पेंशन होता है और मध्य सस्पेंशन हाइड्रोलिक्स का उपयोग करता है। जबकि ICF कोचों में ऐसा कुछ नहीं होता है और LHB कोचों को अतिरिक्त सस्पेंशन भी दिया गया है.

पंकज कुमार सिंह ने बताया कि ट्रेन संख्या 20489/20490 बाडमेर-मथुरा-बाड़मेर एक्सप्रेस 9 जनवरी 2024 से बाडमेर से और 10 जनवरी 2024 से मथुरा से एलएचबी रेक के साथ चलेगी. इन ट्रेनों के एलएचबी रेक में 1 फर्स्ट एसी, 1 सेकेंड एसी, 4 थर्ड एसी, 5 स्लीपर कोच, 3 जनरल कोच, 1 पावरकोर क्लास, 1 गार्ड का डिब्बा सहित 16 कोच होंगे।

Share This Article