व्यवसाय / काम की खबर

LIC IPO लाने की तारीख पर इस हफ्ते फैसला ले सकती है सरकार Government may decide this week on the date of bringing LIC IPO

सरकार भारतीय जीवन बीमा निगम (एलआईसी) के आरंभिक सार्वजनक निर्गम (आईपीओ) को लाने की तारीख पर इस हफ्ते के भीतर निर्णय ले सकती है. एक वरिष्ठ अधिकारी ने यह कहा. एलआईसी में पांच फीसदी हिस्सेदारी या 31.6 करोड़ शेयर की बिक्री पहले मार्च में होने वाली थी लेकिन भू-राजनीतिक तनाव के मद्देनजर इसे स्थगित कर दिया गया था.

सरकार के पास 12 मई तक का समय

सरकार के पास भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (सेबी) के पास नए दस्तावेज दाखिल किए बिना जीवन बीमा निगम (एलआईसी) का आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (आईपीओ) लाने के लिए 12 मई तक का समय है. एक अधिकारी ने बताया, आईपीओ कब लाया जाए इस बारे में फैसला इस हफ्ते लिया जा सकता है।

सरकार के पास फिलहाल है समय

अंतरराष्ट्रीय मूल्यांकन कंपनी मिलीमैन एडवाइजर्स द्वारा एलआईसी का अंतर्निहित मूल्य निकाला गया है. 30 सितंबर, 2021 तक कंपनी का अंतर्निहित मूल्य 5.4 लाख करोड़ रुपये था. अंतर्निहित मूल्य बीमा कंपनी में शेयरधारकों के एकीकृत मूल्य के आधार पर निकाला गया है. अगर सरकार 12 मई तक आईपीओ नहीं ला पाती है, तो उसे दिसंबर तिमाही के नतीजे बताते हुए सेबी के पास नए कागजात दाखिल करने होंगे.

हाल ही में 17 अप्रैल को सरकार ने फॉरेन एक्सचेंज मैनेजमेंट एक्ट (FEMA) के नियमों में संशोधन किया है. इससे इंश्योरेंस सेक्टर की दिग्गज कंपनी जीवन बीमा निगम (LIC) में 20 फीसदी तक प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (FDI) खुल गया है. सरकार आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (IPO) के जरिये एलआईसी में अपनी हिस्सेदारी कम करने की योजना बना रही है.

फरवरी में जमा कराए थे डॉक्युमेंट्स

आपको बता दें एलआईसी ने फरवरी में आईपीओ के लिए भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (SEBI) के पास डॉक्युमेंट (DRHP) जमा कराए थे. पिछले महीने सेबी ने दस्तावेजों के मसौदे को मंजूरी दे दी और अब बीमा कंपनी बदलावों के साथ अनुरोध प्रस्ताव (RFP) दाखिल करने की प्रक्रिया में है.

Related Articles

Back to top button