FASTag Scam: घर पर खड़ी थी गाड़ी.और कट गया टोल टैक्स, यहां समझें पूरा खेल….

Prakash Gupta
2 Min Read

FASTag Scam: पहले हाईवे पर टोल प्लाजा हुआ करते थे और उन पर गाड़ियों की लंबी लाइनें लगी रहती थीं, लेकिन जब से फास्टैग की व्यवस्था आई है तब से यह भीड़ कम होने लगी है. लेकिन अब इससे जुड़े स्कैन भी सामने आ रहे हैं.

ऐसा इसलिए क्योंकि कई लोग फास्टैग अकाउंट से पैसे निकाल रहे हैं। ऐसा ही एक मामला मध्य प्रदेश से सामने आया है. एक व्यक्ति की कार उसके घर पर खड़ी थी और उसके घर से कुछ ही दूरी पर एक टोल प्लाजा पर उसके फास्टैग खाते से पैसे काट लिए गए। लेकिन अब कार के मालिक ने यह मामला केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी के सामने उठाया है. उन्होंने पत्र लिखा.
मामला क्या है?

दरअसल, मध्य प्रदेश के नर्मदापुरम के स्वामी दयानंद पचौरी की कार उनके घर पर खड़ी थी. लेकिन उनके घर से 175 किमी दूर विदिशा के सिरोंज स्थित टोल प्लाजा पर उनके फास्टैग खाते से पैसे निकाल लिए गए। उनके मोबाइल फोन पर 40 रुपये कटने का मैसेज आया। इसके बाद उन्होंने फास्टैग के टोल फ्री नंबर पर शिकायत की लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई।

नितिन गडकरी के कार्यालय से संपर्क किया

बताया गया है कि जब टोल फ्री नंबर पर शिकायत पर कोई कार्रवाई नहीं हुई तो स्वामी दयानंद पचौरी ने केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी के कार्यालय से संपर्क किया और उन्हें मामले की जानकारी दी. इसके बाद उन्हें परिवहन मंत्रालय के कार्यालय में ईमेल के जरिये शिकायत दर्ज कराने को कहा गया है.

इसके बाद दयानंद पचौरी ने केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी के ईमेल पर शिकायती पत्र भेजकर इस पर कार्रवाई की मांग की है. उन्होंने कहा कि इसमें बड़ा घोटाला हो सकता है और इसकी जांच होनी चाहिए. वैसे तो 40 रुपये कोई बड़ी रकम नहीं है, लेकिन ये गेम बड़े पैमाने पर भी हो सकता है और इससे बड़ा नुकसान भी हो सकता है.

Share This Article