देश दुनिया

महाराष्ट्र के मंत्री अनिल परब के खिलाफ ED की बड़ी कार्रवाई, मनी लॉन्ड्रिंग के तहत केस भी दर्ज

Anil Parab ED Raids: महाराष्ट्र सरकार के मंत्री के खिलाफ ईडी ने मनी लॉन्ड्रिंग के तहत मामला दर्ज किया था, उन पर करोड़ों की रिश्वत लेने का आरोप है.

Anil Parab ED Raids: महाराष्ट्र में उद्धव सरकार में मंत्री अनिल परब के 7 ठिकानों पर प्रवर्तन निदेशायालय यानि ED ने छापेमारी की है। शिवसेना नेता अनिल परब को सीएम उद्धव ठाकरे का करीबी माना जाता है। परब के C5 बंग्लो, डापोली रिजॉर्ट और बांद्रा के घर पर छापे मारे गए हैं। साथ ही परब के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में केस भी दर्ज किया गया है।इससे पहले उद्धव सरकार के दो मंत्री जेल जा चुके हैं जिसमें अनिल देशमुख और नवाब मलिक का नाम शामिल है। सवाल ये है कि क्या गिरफ्तारी का अगला नंबर अनिल परब का है ?

लगे है गंभीर आरोप

महाराष्ट्र के परिवहन मंत्री अनिल परब के खिलाफ प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने छापेमारी की यह कार्रवाई रत्नागिरि जिले के तटीय दापोली इलाके में भूमि सौदे में कथित अनियमितताओं और अन्य आरोपों को लेकर की है। अनिल परब के अलावा अन्य के खिलाफ धनशोधन मामले की जांच के तहत राज्य में कई जगहों पर छापेमारी की गई है। संघीय एजेंसी ने धनशोधन रोकथाम कानून (पीएमएलए) की आपराधिक धाराओं के तहत एक ताजा मामला दर्ज किया है, जिसके बाद दापोली, मुंबई और पुणे में कई स्थानों पर छापे मारे जा रहे हैं।

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की कार्रवाई दापोली में 2017 में परब द्वारा एक करोड़ रुपए के प्रतिफल मूल्य पर एक भूखंड की खरीद संबंधी आरोपों से जुड़ी है। इस भूखंड को 2019 में पंजीकृत किया गया था। एजेंसी कुछ अन्य आरोपों की भी जांच कर रही है। आरोप है कि इस भूखंड को बाद में मुंबई के केबल ऑपरेटर सदानंद कदम को 2020 में 1.10 करोड़ रुपए के प्रतिफल मूल्य पर बेच दिया गया था। इस बीच, इसी जमीन पर 2017 से 2020 तक एक रिजॉर्ट बनाया गया।

Sach News Desk

देश में तेजी से बढ़ती हुई हिंदी समाचार वेबसाइट है। जो हिंदी न्यूज साइटों में सबसे अधिक विश्वसनीय, प्रमाणिक और निष्पक्ष समाचार अपने पाठक वर्ग तक पहुंचाती है। इसकी प्रतिबद्ध ऑनलाइन संपादकीय टीम हर रोज विशेष और विस्तृत कंटेंट देती है। हमारी यह साइट 24 घंटे अपडेट होती है, जिससे हर बड़ी घटना तत्काल पाठकों तक पहुंच सके। पाठक भी अपनी रचनाये या आस-पास घटित घटनाये अथवा अन्य प्रकाशन योग्य सामग्री ईमेल पर भेज सकते है, जिन्हें तत्काल प्रकाशित किया जायेगा !

Related Articles

Back to top button