टॉप न्यूज़

CG Weather Alert: छत्तीसगढ़ में गर्मी का कहर लगातार जारी , आज भी कई जिलों में चलगी लू

रायपुर । प्रदेश में जून के शुरू में लौटी गर्मी लगातार भीषण हो रही है। शनिवार को मुंगेली में दोपहर का तापमान 48 डिग्री के करीब था, रविवार को बलौदाबाजार के कई हिस्से में 47 के करीब रहा। राजधानी रायपुर और राजनांदगांव समेत मैदानी इलाकों में कई जगह लू चली तथा दोपहर का तापमान सामान्य से 5 डिग्री से ऊपर पहुंच गया। शेष प्रदेश में भी लू जैसे हालात थे, यानी तेज गर्मी पड़ी। मौसम विज्ञानियों ने सोमवार को भी मैदानी इलाकों में तेज गर्मी की आशंका जताई

बादल भी आ रहे हैं, जिससे एक दगो जगह गरज-चमक के साथ बौछारें पड़ने के आसार हैं, जिससे उन क्षेत्रों में राहत रहेगी। राज्य में इस माह की पहली तारीख से गर्मी बढ़ी है। रविवार को नवा रायपुर में पारा 45.2 डिग्री पहुंच गया । यह सामान्य से 5 डिग्री अधिक है। इसी तरह राजनांदगांव में 44.2 डिग्री रिकार्ड किया गया। यह सामान्य से 6 डिग्री ज्यादा है। लू चलने के लिए तापमान का सामान्य से पांच डिग्री या उससे अधिक का अंतर होना जरूरी है। इस मापदंड पर होने के कारण आज इन दोनों जगहों पर लू चलने की घोषणा की है।

किसी भी जगह पर नहीं हुई बारिश

स्थानीय सिस्टम से दूरी की वजह से रविवार को कहीं भी बरसात नहीं हुई। हालांकि आसमान में बादल कई जगह छाए रहे। पश्चिमी हवाओं का आना जारी है। इसकी वजह से गर्मी की तीव्रता अधिक महसूस हुई है। रायपुर में 6 किमी प्रति घंटा की रफ्तार वाली हवाएं चली हैं। मौसम विभाग के मुताबिक एक ऊपरी हवा का चक्रीय चक्रवाती घेरा पूर्वी उत्तर प्रदेश के ऊपर 0.9 किलोमीटर ऊंचाई तक विस्तारित है। एक द्रोणिका पूर्वी उत्तर प्रदेश से दक्षिण छत्तीसगढ़ तक 0.9 किलोमीटर ऊंचाई तक फैली हुई है। इसकी वजह से प्रदेश में एक दो स्थानों पर हल्की बारिश होने या गरज-चमक के साथ के साथ छीटें पड़ने की (CG Weather Report) संभावना है। बारिश का क्षेत्र मुख्यत दक्षिण छत्तीसगढ़ रहने की संभावना है।

7 जून तक पहुंचने वाला था मानसून

बता दें कि देश भर में जून का महीना झुलसाने वाली गर्मी के लिए जाना जाता है। छत्तीसगढ़ में जून महीने में सवार्धिक अधिकतम तापमान 47.2 डिग्री सेल्सियस मापा गया है। रायपुर में ये 11 जून 1931, एक जून 1988 और 8 जून 1995 को रिकॉर्ड किया गया था। बिलासपुर में दो जून 2012 को यह रिकॉर्ड हुआ। वहीं जांजगीर-चांपा में भी तीन जून 1978 को अधिकतम तापमान 47.2 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड हुआ था। इस साल इस महीने का अधिकतम तापमान 46.1 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचा है। इसे तीन जून को मुंगेली में रिकॉर्ड किया गया था। इससे पहले छत्तीसगढ़ में 7 जून तक मानसून पहुंचने का अनुमान था। वहीं केरल में मानसून देर से पहुंचा, जिसकी वजह से छत्तीसगढ़ (CG Weather Report) में भी मानसून पहुंचने में देरी हो रही है।

Sach News Desk

देश में तेजी से बढ़ती हुई हिंदी समाचार वेबसाइट है। जो हिंदी न्यूज साइटों में सबसे अधिक विश्वसनीय, प्रमाणिक और निष्पक्ष समाचार अपने पाठक वर्ग तक पहुंचाती है। इसकी प्रतिबद्ध ऑनलाइन संपादकीय टीम हर रोज विशेष और विस्तृत कंटेंट देती है। हमारी यह साइट 24 घंटे अपडेट होती है, जिससे हर बड़ी घटना तत्काल पाठकों तक पहुंच सके। पाठक भी अपनी रचनाये या आस-पास घटित घटनाये अथवा अन्य प्रकाशन योग्य सामग्री ईमेल पर भेज सकते है, जिन्हें तत्काल प्रकाशित किया जायेगा !

Related Articles

Back to top button