world

बड़ा खुलासा: भारत के करीब चीन ने इस आइलैंड पर कब्‍जा कर बनाए सैन्‍य ठिकाने



नई दिल्‍ली: चीन की इंटरनेशनल साज़िश पर बहुत बड़ा ख़ुलासा हुआ है। न्यूज़ 24 को भारत के पास समुद्री सीमा में चीनी सेना की सैन्य और आतंकी साज़िशों के सुराग मिले हैं। अंडमान के बेहद करीब म्यांमार के कोको आईलैंड पर चीनी सेना ने भारत की जासूसी के लिए कई सैन्य ठिकाने बना लिए हैं। चीन की इस इंटरनेशनल साज़िशों का सबूत देने वाली तस्वीरें न्यूज़ 24 को मिली हैं। अपनी विस्तारवादी नीतियों के तहत किस तरह चीन ने म्यांमार और भारत दोनों के साथ धोखा किया है।

दो साल में चीन ने यहां सबकुछ बदल दिया या यूं कहें कि 2 साल में टापू पर अपनी विस्तारवादी और आतंकी साज़िश को अंजाम दे दिया है। 2018 में चीन ने म्यामांर के कोको आईलैंड को लीज़ पर लिया था। ये टापू अंडमान निकोबार की उत्तरी सीमा के बेहद करीब है। इसलिए भारतीय सुरक्षा के लिए यहां चीन की हरक़तें बड़ा ख़तरा हैं। चीन ने 2 साल में कोको आईलैंड में अपने कई सैन्य ठिकाने बना लिए हैं। विकास के नाम पर चीन ने म्यांमार को धोखा दिया है और भारत के ख़िलाफ़ साज़िशें रची हैं।

उत्तरी अंडमान के पास कोको आईलैंड पर चीन का होना अपने आप में बेहद चिंताजनक है, क्योंकि ऐसा माना जा रहा है कि चीन ने यहां सिर्फ़ अपना सैन्य दखल बढ़ाने के लिए करोड़ों रुपये ख़र्च करके सैन्य ठिकाने बना लिए हैं। कोको आईलैंड में चीन की सेना नज़र आती है। तमाम विकास कार्य इस तरह से अंजाम दिए गए हैं कि चीनी सेना यहां से भारत के अंडमान निकोबार द्वीप समूह जैसे संवेदनशील स्थानों की जासूसी कर सके।

सारी दुनिया ये मानती है कि चीन ने म्यांमार से जो कोको आईलैंड सिर्फ़ विकास के नाम पर लीज़ पर लिया है, उसे वो व्यापारिक रास्ते के तौर पर नहीं बल्कि अपने सैन्य ठिकानों के तौर पर लगातार विकसित कर रहा है। यहां तक कि चीन ने कोको आईलैंड पर हवाई पट्टी भी बना ली है। चीन ने चोरी-छिपे जो सैन्य ठिकाने बनाए हैं, उन्हें वो लगातार इस तरह से बढ़ा रहा है ताकि अंडमान द्वीप समूहों के करीब पहुंच सके। चीन ने ऐसा करके ना केवल अंतर्राष्ट्रीय समझौतों को तोड़ा है, बल्कि म्यांमार को भी धोख़ा दिया है। सिर्फ़ 2018 से 2020 के बीच में चीन ने जितनी भी सड़कें, पुल, वेयरहाउस, हवाई पट्टियां बनाई हैं, वो सब युद्ध में काम आने वाले सैन्य ठिकानों की तरह हैं।

चीन की सैन्य और आतंकी साज़िशों को लेकर एक और बड़ा सच सामने आया है। दक्षिण पूर्व एशिया में चीन के सबसे करीबी सहयोगी म्यांमार ने अब उसी पर आतंकवादी और विद्रोही समूहों को हथियार मुहैया कराने का बड़ा आरोप लगाया है।

म्यांमार-भारत के ख़िलाफ़ चीनी साज़िश!
म्यांमार ने आतंकी समूहों को लेकर अंतरराष्ट्रीय सहयोग मांगा है
म्यांमार के वरिष्ठ जनरल मिन आंग ह्लाइंग ने रूस से मदद मांगी है
म्यांमार के मुताबिक उनके यहां आतंकी संगठनों को मज़बूत समर्थन मिल रहा है
म्यांमार के मुताबिक उनके यहां विद्रोहियों को भी बाहर से समर्थन दिया जा रहा है
म्यांमार का इशारा चीन की तरफ़ है और उसने बड़े देशों से सहयोग मांगा है
म्यांमार के मुताबिक वो आतंकी और विद्रोहियों को ख़त्म करना चाहते हैं

चीन और भारत के बीच बढ़ते तनाव के बीच रक्षा विशेषज्ञों और भारतीय सुरक्षा एजेंसियों का मानना है कि अंडमान के पास कोको आईलैंड में चीनी ठिकाने चिंता का विषय हैं। ये व्यापारिक रास्ता नहीं बल्कि सैन्य साजोसामान पहुंचाने वाली अंतर्राष्ट्रीय साज़िश है। चीन की हरक़तों पर नज़र रखने के लिए अंडमान निकोबार द्वीप समूह के आसपास समुद्री इलाकों में नेवी पूरी तरह सतर्क है। गलवान घाटी से लेकर साउथ-चाइना सी में चीन की घुसपैठ वाली हर साज़िश नाकाम हो रही है।

The post बड़ा खुलासा: भारत के करीब चीन ने इस आइलैंड पर कब्‍जा कर बनाए सैन्‍य ठिकाने appeared first on News 24.

Live Share Market

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Live Updates COVID-19 CASES
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker