‘हमें राशन की जरूरत’, खाना लेकर पहुंची पुलिस

0
1
यश प्रभाकर, सहारनपुर
() ने पूरे देश को कर रखा है। लॉकडाउन में सबसे बड़ी समस्या खाने-पीने की हो रही है। उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में एक पेड़ पर पोस्टर लगाकर लोगों ने बताया कि उन्हें राशन चाहिए। पोस्टर पर लिखा था- ‘हमें राशन की जरूरत है’ इसकी सूचना पुलिस को मिली तो पुलिस तुरंत खाने के पैकेट लेकर पहुंच गई। इसके अलावा कई और जगहों पर भी भूखे लोगों को पुलिस ने खाना खिलाया। पुलिस की ओर से यह भी कहा गया है कि अगर लॉकडाउन के चलते कोई भूखा है तो वह 112 पर फोन करे, उसकी पूरी मदद की जाएगी।

सहारनपुर में ही ‘प्रभू जी की रसोई’ जिसमें रोजाना गरीबों को भोजन कराया जाता है, वहां भी गुरुवार को 650 भोजन के पैकेट बनाकर गरीबो में वितरित किए गए। इसके अलावा थाना कुतुबशेर में पुलिस ने अखलाक पुत्र युनूस निवासी मक्का मस्जिद मानकमउ को 500 रुपये देकर उनके राशन की व्यवस्था कराई। अखलाक ने यूपी-112 पर कॉल करके बताया था कि वह और उनकी पत्नी बुधवार से ही भूखे हैं। सूचना मिलते ही थाना प्रभारी तुरंत उनके घर पहुंचे और उनकी मदद की।

‘कोई भूखा हो तो 112 पर फोन करके बताएं, पुलिस मदद करेगी’
जिले के एसएसपी दिनेश कुमार पी के निर्देश पर ही यूपी-112 की टीम लोगों को खाना उपलब्ध करा रही है। ऐसी ही एक कॉल में कहा गया कि वह व्यक्ति वाराणसी से आया है ओर उसके तीन छोटे-छोटे बच्चे हैं जबकि खाने का इंतजाम उसके पास नहीं है। इस पर लेपर्ड कैंप की टीम मौके पर पहुंची ओर उनके भोजन की व्यवस्था कराई।

एक व्यक्ति ने सूचना दी कि उसके घर में दवा नहीं है, जिस पर पुलिस ने उसे दवा उपलब्ध कराई। जमील अहमद पुत्र जहांगीर निवासी नई बस्ती थाना कोतवाली और फरमान पुत्र नासिर निवासी ग्राम किथोडा थाना किरतपुर जिला बिजनौर हाल निवासी नूर बस्ती वन विहार को खाना, राशन, दूध, चीनी और चावल उपलब्ध कराया गया। इसके अलावा ट्विटर पर जानकारी मिली कि थाना जनकपुरी क्षेत्र एसबीडी अस्पताल के सामने पुल के नीचे रेलवे पटरियों के बीच एक परिवार भूखा बैठा है, जिसके पास खाने को कुछ नहीं है। इस सूचना पर थाना जनकपुरी पुलिस ने मोके पर पहुंचकर परिवार को थाने लाकर भरपेट भोजन कराया और परिवार को अपने घर तक सकुशल पहुंचने का किराया भी उपलब्ध कराया।

एसएसपी बोले- कोई भूखा ना रहे, यह हमारी जिम्मेदारी है
थाना जनकपुरी क्षेत्र में एक मोहल्ले के बाहर मेनरोड पर एक पेड़ पर पोस्टर लगाकर लिखा था- ‘हमें राशन की जरूरत है’। यह पोस्टर पढ़ते ही इसकी सूचना किसी ने थाना जनकपुरी पुलिस को दी, जिस पर थाना जनकपुरी पुलिस ने खाने के पहुंचाकर जरूरतमंदों की मदद की। सहारनपुर के एसएसपी दिनेश कुमार पी ने नवभारत टाइम्स को बताया कि अगर किसी को भी अपने आसपास कोई भूखा व्यक्ति दिखे या किसी को खाने की जरूरत हो तो वह 112 पर कॉल कर सकता है। पुलिस उसकी तुरंत मदद करेगी। उन्होंने कहा कि मानवता के नातेपोसहम सबकी जिम्मेदारी है कि हमारे आसपास कोई भूखा न रहे।