in

लॉकडाउन: कैसे जिएं, उमर अब्दुल्ला ने दिए टिप्स

1 Views
श्रीनगरजम्मू-कश्मीर के पूर्व सीएम अपने ह्यूमर के लिए हमेशा ही चर्चा में रहते हैं। जब 232 दिनों की हिरासत से उमर रिहा हुए तो देश में महामारी घोषित कोरोना वायरस की वजह से देशभर में 21 दिनों का लॉकडाउन लग गया। ऐसे में उमर के लिए स्थिति एक तरह से जस की तस ही रह गई। हालांकि, इस मौके पर वह ट्वीट करना नहीं भूले। उन्होंने एक के बाद एक धड़ाधड़ कई ट्वीट करते हुए लॉकडाउन के दौरान जिंदगी जीने के लिए के टिप्स दे डाले।

उन्होंने लॉकडाउन मे रहने की टिप्स देने की बात कहते हुए लिख, ‘अगर कोई क्वॉरंटीन और लॉकडाउन में जीवित रहने पर सुझाव चाहता है तो इसके लिए मेरे पास महीनों का अनुभव है।’ उन्होंने लिखा- सबसे पहले तो आपको अपने लिए एक रुटीन तैयार करना चाहिए और उसे कड़ाई से पालन भी करना चाहिए। मैं एसएनएसजे (हरी निवास सब-जेल) में महीनों रहा। मैंने वहां रुटीन तैयार किया और उसे फॉलो करते हुए जिंदगी जिया।

ऐसा रहा रुटीनपूर्व सीएम ने आगे लिखा- व्यायाम, व्यायाम और व्यायाम करें। मैं इस बात पर जोर नहीं दे सकता। मैं भाग्यशाली था कि मुझे बाहर निकलने के लिए HNSJ में जगह और मैदान मिला, लेकिन जब मौसम ने मुझे घर के बाहर जाने की इजाजत नहीं दी तो तो मेरे पास ठहलने के लिए गलियारे, ऊपर और नीचे सीढ़ियां थीं। हां, वर्कआउट के लिए मोबाइल ऐप की भी सहायता ली जा सकती है।

उन्होंने डायट प्लान पर बाते करते हुए लिखा- अपने भोजन के समय को ठीक करें और उनसे चिपके रहें। बोर्डिंग स्कूल की आदत और आवश्यकता के अनुसार मैंने पूरा ब्यौरा तैयार किया। 8:30 पर नाश्ता, दोपहर 2 बजे लंच और 7:30 पर डिनर का टाइम सेट किया। हां, दोपहर 12 बजे (बीपी के चेकअप के बाद) कॉफी का समय होता था, जबकि शाम की चाय 6 बजे।

उल्लेखनीय है कि उमर अब्दुल्ला 232 दिन की हिरासत के बाद मंगलवार दोपहर श्रीनगर के हरि निवास से रिहा हुए थे। 5 अगस्त 2019 को अनुच्छेद 370 के अंत के बाद हिरासत में लिए गए उमर पर 5 फरवरी 2020 को पीएसए लगाया गया था। इस कार्रवाई के बाद उमर की हिरासत की मियाद बढ़ गई थी और उमर इस अवधि मे सोशल मीडिया से भी दूर थे।

admin

Written by admin

26 मार्च का इतिहास: स्वतंत्र देश बना बांग्लादेश

कोरोना वायरस से अंडरवर्ल्ड भी डरा, धंधा पड़ा मंदा!