[prisna-google-website-translator]
Hamar Chhattisgarh

4 जनवरी को होगा कोरोना वैक्सीन का ड्राई रन

रायगढ़: संक्रमण काल में खुशखबरी की बात यह है कि अब कोरोना वैक्सीन लगाने की तैयारियां की जा रही हैं। जनवरी में कोरोना वैक्सीन आने की सम्भावना है इस कारण स्वास्थ्य मंत्रालय ने पूरे देश भर में कोरोना वैक्सीन टीकाकरण के मॉकड्रिल के निर्देश दिए हैं। सीएमएचओ डॉ एसएन केसरी ने बताया, “टीकाकरण करने के लिए जिले में 80 टीम बनाई गई है। रायगढ़ शहर में दो और ग्रामीण स्तर पर एक टीम अभी मॉकड्रिल में जोड़ा जाएगा, उन्हें पूरा सिस्टम बताया जाएगा”।

स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार राज्य के चिन्हित जिलों में 2 जनवरी को वैक्सीन का ड्राई रन किया गया लेकिन जिले में 2-3 जनवरी को मुख्यमंत्री का दौरा होने के कारण 4 जनवरी को एक दिन में कोरोना टीकाकरण का ड्राई रन किया जाएगा। जिसके जरिए टीकाकरण की तैयारियों को परखा जाएगा। सोमवार को शहर के बोईरदादर स्थित शालिनी पब्लिक स्कूल और रामभाठा स्थित शहरी सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में ट्रायल किया जाएगा।

इसके अलावा जिले में तमनार के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भी ड्राई रन किया जाएगा। यहां पांच-पांच लोगों को वैक्सीन लगाने का ट्रायल किया जाएगा। जिसके बाद उन्हें आधे घंटे अलग कमरे में रखा जाएगा और फिर उन्हें जाने दिया जाएगा। जिन लोगों को वैक्सीन लगानी है सबसे पहले उनका परिचय पत्र का रजिस्ट्रेशन से मिलान किया जाएगा इसके बाद उनको टीकाकरण केंद्र में आने दिया जाएगा।

स्वास्थ्य अधिकारियों के अनुसार माक ड्रिल के दौरान टीकाकरण करने, किसी व्यक्ति को हॉस्पिटल में पहुंचकर कैसे वैक्सीन देनी है साथ ही उसे मोबाइल एप में कैसे एंट्री करनी है। इसके अतिरिक्त कुछ समय के लिए लोगों को हॉस्पिटल में रखना है, इस दौरान किन बातों का ध्यान रखना है, आदि बातों की ट्रेनिंग दी जाएगी।

वैक्सीन लगाने के लिए 2 नए प्वाइंट बढ़े

सीएमएचओ डॉ एसएन केसरी ने बताया, “जिले में 29 कोल्ड चेन प्वाइंट होंगे। पहले 27 प्वाइंट थे, दो नए प्वाइंट बनाए गए हैं। अभी रायगढ़ में आठ टीम और तमनार में दो टीम को मॉकड्रिल में शामिल किया गया है।

वैक्सीन रायपुर और बिलासपुर से रायगढ़ में पहुंचेगी, पहले उसे केजीएच हॉस्पिटल के जिला टीकाकरण केंद्र में रखा जाएगा। वहां से 4 गाड़ियों में टीका भेजा जाएगा, जिसे रेफ्रिजरेटर में दो से आठ डिग्री तापमान पर रखा जाएगा। ब्लॉक स्तर पर भी इसी व्यवस्था को अपनाया ।

मेडिकल टीम में होंगे पांच कर्मचारी

टीकाकरण करने के लिए पांच कर्मचारी होंगे, इसमें एक गार्ड मौजूद रहेगा, इसके अलावा डाटा एंट्री ऑपरेटर, वैक्सीन लगाने के लिए एक व्यक्ति वहां मौजूद रहेगा। एक कर्मचारी वहां पर वहां टीका लगाने के लिए आने वाले लोगों को व्यवस्थित तरीके से उन्हें इंट्री दिलाई जाएगी। डाटा एंट्री ऑपरेटर को मोबाइल एप में तुरंत इंट्री देनी होगी।

Live Share Market

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Live Updates COVID-19 CASES

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker