छत्तीसगढ़ की खबरे

छत्तीसगढ़ में दो महीने से रद्द चल रही 36 ट्रेनों को

बिलासपुर : छत्तीसगढ़ में दो महीने से रद्द चल रही 36 ट्रेनों को और 15 दिनों के लिए कैंसिल कर दिया गया है। इनमें लोकल, डेमे-मेमू, पैसेंजर और मेल-एक्सप्रेस से लेकर हफ्ते में एक-दो दिन चलनेवाली ट्रेनें भी हैं। देशभर में कोयला सप्लाई करने के लिए छत्तीसगढ़ से बड़ी संख्या में मालगाड़ियां बाहर भेजी जा रही हैं। उनके सुचारू संचालन के लिए यात्री ट्रेनें रद्द की गई हैं। इस वजह से हर रूट के मुसाफिरों के पास इक्का-दुक्का ट्रेनों का विकल्प है, इसलिए सभी में बेतहाशा भीड़ चल रही है।

किसी भी ट्रेन में रिजर्वेशन तो दूर, पैर रखने की जगह नहीं है। 15 दिन के लिए नियमित की जाने वाली ज्यादातर एक्सप्रेस ट्रेनें 24-25 जून से 8-9 जुलाई तक रद्द की गई हैं। इनमें बिलासपुर-भोपाल, बिलासपुर-रीवा (दोनों फेरे) और जबलपुर-अंबिकापुर (दोनों फेरे) शामिल हैं।

इसी तरह, 24-25 जून से ही 9 जुलाई तक रद्द की गई मेमू-डेमू ट्रेनों में बिलासपुर-रायगढ़ (दोनों फेरे), बिलासपुर-शहडोल (दोनों फेरे), रायपुर-डीजीजी, डीजीजी– बिलासपुर, इतवारी– रामटेक, रामटेक–नागपुर, झारसुगड़ा-गोंदिया (दोनों फेरे) और कोरबा-गेवरारोड (दोनों फेरे) शामिल हैं।

वीकली ट्रेनें भी 2 से 5 दिन नहीं चलेंगी

  • नांदेड़-सांतरागाछी़ 27 जून व 4 जुलाई
  • सांतरागाछी-नांदेड़ 29 जून व 6 जुलाई
  • रानी कमलापति-सांतरागाछी 29 जून, 6 जुलाई
  • सांतरागाछी-रानी कमलापति 30 जून, 7 जुलाई
  • भुवनेश्वर-एलटीटी 27, 30 जून व 4, 7 जुलाई
  • एलटीटी-भुवनेश्वर 29 जून, 2, 6 और 9 जुलाई
  • पुरी-एलटीटी साप्ताहिक, 28 जून व 5 जुलाई
  • एलटीटी -पुरी साप्ताहिक 30 जून व 7 जुलाई
  • हटिया-एलटीटी 24, 25 जून व 1,2, 8 जुलाई
  • एलटीटी -हटिया 26, 27 जून, 3,4,10 जुलाई
  • विशाखापट्टनम-एलटीटी 26 जून व 3 जुलाई
  • एलटीटी-विशाखापट्टनम 28 जून व 5 जुलाई
  • बिलासपुर-भगत की कोठी 27-28 जून, 4-5 जुलाई
  • भगत की कोठी-बिलासपुर 30 जून, 2, 7, 9 जुलाई
  • बीकानेर-बिलासपुर 28 जून, 3, 5, 10 व 12 जुलाई

Sach News Desk

देश में तेजी से बढ़ती हुई हिंदी समाचार वेबसाइट है। जो हिंदी न्यूज साइटों में सबसे अधिक विश्वसनीय, प्रमाणिक और निष्पक्ष समाचार अपने पाठक वर्ग तक पहुंचाती है। इसकी प्रतिबद्ध ऑनलाइन संपादकीय टीम हर रोज विशेष और विस्तृत कंटेंट देती है। हमारी यह साइट 24 घंटे अपडेट होती है, जिससे हर बड़ी घटना तत्काल पाठकों तक पहुंच सके। पाठक भी अपनी रचनाये या आस-पास घटित घटनाये अथवा अन्य प्रकाशन योग्य सामग्री ईमेल पर भेज सकते है, जिन्हें तत्काल प्रकाशित किया जायेगा !

Related Articles