india

News18 Rising India updates: 2014 से पहले महंगाई डायन मार रही थी, अब 2-4 प्रतिशत रह गई महंगाई दर- पीएम मोदी



अपडेट-

#News18RisingIndia LIVE : बीते 4 वर्षों में विदेशी पर्यटकों की संख्या में क़रीब 45% की वृद्धि हुई है. पर्यटन से होने वाली विदेशी मुद्रा की कमाई भी बीते 4 वर्षों में 50% बढ़ गई है. भारत के एविएशन सेक्टर में भी ऐतिहासिक बढ़ोतरी हुई है : PM @narendramodi @PMOIndia pic.twitter.com/elZeNDeVcZ
— News18 India (@News18India) February 25, 2019

अपडेट-

जब देश में पहले की तुलना में कई गुना रफ्तार से सड़क बनाने का काम चल रहा है, रेल मार्गों के विस्तार का काम हो रहा है. गरीबों के लिए लाखों मकान बनाने से लेकर नए पुल, नए बांध, नए हवाई अड्डे रिकॉर्ड कार्य हो रहा हैं. तो क्या ये संभव है कि रोजगार पैदा नहीं हुए हों? बीते 4 वर्षों में विदेशी पर्यटकों की संख्या में क़रीब 45% की वृद्धि हुई है. पर्यटन से होने वाली विदेशी मुद्रा की कमाई भी बीते 4 वर्षों में 50% बढ़ गई है. भारत के एविएशन सेक्टर में भी ऐतिहासिक बढ़ोतरी हुई है. क्या इन सबसे रोजगार के अवसर सृजित नहीं हुए हैं?- प्रधानमंत्री

अपडेट-

जरा सोचिए भारत जब सबसे तेजी से बढ़ने वाली अर्थव्यवस्था बन गया है तो क्या ये संभव है कि बिना नौकरी को सृजित किए ये हो जाए? जब देश में एफडीआई All-Time High है तो क्या ये संभव है कि नौकरियां पैदा नहीं हो रही हों? जब कई अंतरराष्ट्रीय रिपोर्ट कह रही हैं कि भारत सबसे तेजी से गरीबी हटा रहा है तो क्या ये संभव है कि बिना नौकरी के लोग गरीबी से बाहर आ रहे हों?: PM

अपडेट-

हमारे यहां किस तरह जनता के पैसे को जनता का न समझने की परंपरा अरसे तक हावी रही है, आप भी जानते हैं. अगर ऐसा न होता तो सैकड़ों योजनाएं दशकों तक अधूरी न रहतीं, अटकती-भटकती न रहतीं. इसलिए ही हमारी सरकार, योजनाओं में देरी को आपराधिक लापरवाही से कम नहीं मानती: पीएम मोदी

अपडेट-

मेरी सरकार आने के बाद से कच्ची-पक्की पर्ची का खेल बंद हो गया है. जीएसटी के जरिए टैक्स सीधे सरकार तक पहुंच रहा है. लोगों का काला कारोबार बंद हो गया है, इसीलिये तो ऐसे लोग पानी पी-पीकर मुझे कोसते हैं- मोदी

अपडेट-

हमारी सरकार के दौरान करीब-करीब 6 लाख करोड़ रुपए केंद्र सरकार ने सीधे लाभार्थियों के खाते में भेजे हैं. और मुझे ये कहते हुए गर्व है कि पहले की तरह 100 में से सिर्फ 15 पैसे नहीं, बल्कि पूरे पैसे लाभार्थियों को मिल रहे हैं: PM

अपडेट-

जनधन अकाउंट, आधार और मोबाइल को जोड़ने का नतीजा ये हुआ कि एक के बाद एक करके कागजों में दबे हुए फर्जी नाम सामने आने लगे. आप सोचिए, अगर आपके ग्रुप में 50 लोग ऐसे हो जाएं जिनकी हर महीने सैलरी जा रही हो, लेकिन वो हकीकत में हो ही नहीं, तो क्या होगा: प्रधानमंत्री

अपडेट-

भारत की ग्लोबल स्टैंडिंग की बात करें तो हम पढ़ते आए थे कि इक्कीसवीं सदी भारत की सदी है. भारत को 2013 में दुनिया के फ्रेजाइल फाइव देशों में पहुंचा दिया गया. आज सरकार के दृढ़ निश्चय और 125 करोड़ देशवासियों के परिश्रम के बल पर भारत दुनिया की सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था बन गई हैः पीएम मोदी

अपडेट-

अब जब मैं मीडिया के साथियों के बीच हूं तो इस चर्चा को आगे बढ़ाने के लिए आपका पसंदीदा तरीका ही अपनाउंगा. यानी पहले क्या था और अब क्या है. इसी से ये भी पता चलेगा कि राजनीति से अलग हटकर जब राष्ट्रनीति को प्राथमिकता दी जाती है, तो किस तरह के परिणाम निकलते हैं: प्रधानमंत्री मोदी

अपडेट-

अटल जी ने 8 फीसदी विकास दर यूपीए को सौंपी थी. 2014 में हमें 5 फीसदी मिली: पीएम मोदी

अपडेट-

2014 से पहले देश में स्थिति ये थी कि जो बढ़ना चाहिए था वो घट रहा था और जो घटना चाहिए था वो बढ़ रहा था: मोदी

अपडेट-

#News18RisingIndia LIVE : हम सबको पता है कि महंगाई दर नियंत्रण में रहनी चाहिए, पिछली सरकार में जरूरी वस्तुओं के दाम आसमान छू रहे थे : PM @narendramodi @PMOIndia
लाइव टीवी देखने के लिए क्लिक करें>>https://t.co/1euh0wQULz#ModiKeyNote#PMModiAtRisingIndia pic.twitter.com/CbbERg4wmM

— News18 India (@News18India) February 25, 2019

अपडेट-

राइजिंग इंडिया समिट में शामिल होने के लिए होटल ताज पहुंच चुके हैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

अपडेट-

स्पाइसजेट के अजय सिंह ने कहा कि मोदी सरकार को दूसरा मौका मिलना चाहिए. उन्होंने कहा, ‘सरकार बेहतरीन काम कर रही है. एक बार फिर मोदी सरकार.’ अबकी बार मोदी सरकार का नारा सिंह ने ही तैयार किया था जो 2014 के लोकसभा चुनाव में काफी चर्चित हुआ था.

अपडेट-

अगले 15 दिनों में मोबिलिटी और बैटरी स्टोरेज पर एक क्लियर पॉलिसी आपके सामने होगी. यह एक डायनैमिक इंडस्ट्री है जहां वैश्विक स्तर पर काफी समस्याएं हैं. आपके पास सिर्फ मोबिलिटी नहीं, स्टोरेज को लेकर भी पॉलिसी होगीः अमिताभ कांत

अपडेट-

ग्रीन अर्थ और ब्लू स्काई को लेकर जो विज़न तैयार किया गया है वह असल में पर्यावरण के लिए है. हमारी पॉलिसीज उसी दिशा में तैयार की गई हैं. वर्तमान में जो डेब्ट टू जीडीपी रेशियो है उसे देखकर यह साफ है कि हम प्राइवेट सेक्टर के लिए कम पैसे छोड़ रहे हैं. अगले 5 सालों में यह रेशियो बढ़कर 40 प्रतिशत हो जाएगा. यह चुनौतीभरा है क्योंकि रेशियो को मेंटेन करने के लिए राजकोष का ध्यान भी रखना होगा- सुभाष चंद्र गर्ग

अपडेट-

टैक्स सस्ते करने को लेकर अमिताभ कांत ने जब अजय सिंह से सवाल किया तो इस पर सिंह ने कहा, ‘हम छूट नहीं मांग रहे हैं. हम बस टैक्स घटाने की मांग कर रहे हैं. हम मांग कर रहे हैं कि फ्लाइट की टिकटों को जीएसटी के दायरे में लाया जाए.’

अपडेट 6

कुछ लोग अहिंसा के नाम पर कायरता के गीत गाते हैं और वीरता को गाली देते हैं. लेकिन जब पुलवामा हमला हो जाता है तब दुबककर बैठ जाते हैं. अब मैं कहता हूं कि योग पूर्वक युद्ध करो और पाकिस्तान जो नापाक हो चुका है उसे शुद्ध करो: रामदेव

अपडेट 5

धर्म का मतलब है कि आपके पास एक मूलभूत विश्वास होना चाहिए. आध्यात्म का मतलब है कि आप खुद को ढूंढ रहे हैं. हम अज्ञान के महत्व को समझते हैं, तलाश करते रहने की संभावना ही हमारे जीवन की सच्चाई बन जाती है- सदगुरु

अपडेट 4

हमारी संस्कृति में धर्म और आध्यात्म को एक समझा जाता है. विदेशों में धर्म और आध्यात्म को अलग माना जाता है. भारत में दोनों अलग नहीं है. कोई बाइबल या कुरान की आलोचना नहीं कर सकता है लेकिन भारत में वेदों की आलोचना करना फैशन बन गया है. इसके लिए एक पूरा गैंग जुटा हुआ हैः रामदेव

अपडेट 3 

रामदेव ने बताया कि जो दिखता है वो भोग है और जो नहीं दिखता वह योग है. अब प्रसून जोशी सदगुरु से बात कर रहे हैं. जोशी ने इनसे भी योग और भोग में अंतर पर बात सवाल पूछ रहे हैं.

अपडेट 2

प्रसून जोशी ने सद्गुरु और रामदेव के साथ बातचीत शुरुआत करते हुए दो लाइने बोली जो ये हैं.

झील में पत्थर ही पत्थर है
कहां बची है झील होना
भूल गए हैं गौराया को
सबको अब चील होना है.

अपडेट 1 

पहले दिन के कार्यक्रम का समापन पीएम नरेंद्र मोदी के संबोधन के साथ होगा. वह ‘Beyond Politics: Defining National Priorities’ यानी ‘राजनीति से ऊपर राष्ट्रीय प्रतिबद्धता’ विषय पर संबोधित करेंगे. पिछले साल राइजिंग इंडिया समिट में पीएम मोदी ने कहा था कि उनके लिए राइजिंग इंडिया का मतलब है देश के हर नागरिक के आत्मसम्मान का राइज होना है.

न्यूज 18 नेटवर्क  25, 26 फरवरी को दिल्ली में राइज़िंग इंडिया समिट का आयोजन कर रहा है. इसमें धर्म, राजनीति, बिजनेस, फिल्म और स्पोर्ट्स से जुड़ी हस्तियां अपने विचार रखेंगी. पहले दिन पीएम नरेंद्र मोदी मुख्य अतिथि के तौर पर मौजूद रहेंगे. दिन की शुरुआत धार्मिक गुरुओं से होगी. ‘द न्यू मंत्रा ऑफ इंडिया’ सत्र में स्प्रिचुअल लीडर सद्गुरु जग्गी वासुदेव और बाबा रामदेव अपने विचार रखेंगे. इसके सूत्रधार होंगे जाने माने गीतकार प्रसून जोशी.

दूसरे सत्र ‘गेट सेट ग्रो’ में बिजनेस लीडर्स से बातचीत होगी. इसमें बिजनेसमैन अनिल अग्रवाल, सुनीता रेड्डी, रोबिन रैना और अजय सिंह के साथ नीति आयोग के सीईओ अमिताभ कांत एवं आर्थिक मामलों के सचिव सुभाष चंद्र गर्ग भारत के विकास की कहानी बताएंगे.

तीसरे सत्र में शाम 06.20 से 07:00 बजे तक केंद्र सरकार के तीन मंत्री नितिन गडकरी, पीयूष गोयल और रविशंकर प्रसाद विकास की कहानी बताएंगे. चौथे सत्र को मध्य प्रदेश के सीएम कमलनाथ संबोधित करेंगे. उनके बाद यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ लोगों से रूबरू होंगे. पांचवें सत्र ‘Beyond Politics: Defining National Priorities’ को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी संबोधित करेंगे.

राइजिंग इंडिया के दूसरे दिन 26 फरवरी को सुबह 10:30 बजे ‘The Making of New India’ सत्र को बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह संबोधित करेंगे. दूसरे सत्र में पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह, छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल, पुडुचेरी के सीएम वी नारायणसामी, हिमाचल प्रदेश के सीएम जयराम ठाकुर एवं मेघालय के सीएम कोनराड संगमा लोगों को संबोधित करेंगे. इसके बाद ‘wetoo: The New Gender Equation (women)’ नामक सत्र होगा, जिसमें राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी की नेता एवं सांसद सुप्रिया सुले एवं अभिनेत्री तापसी पन्नू अपने विचार रखेंगी.

दोपहर 01:00 से 01:40 बजे तक स्पोर्ट्स सत्र में केंद्रीय मंत्री राज्यवर्धन राठौर, ओलंपियन मैरीकॉम एवं पूर्व क्रिकेटर अनिल कुंबले अपने विचार रखेंगे. इसके बाद के सत्र को केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी, कांग्रेस नेता आरपीएन सिंह, बीजेपी नेता राम माधव, राजस्थान के डिप्टी सीएम सचिन पायलट, जम्मू कश्मीर के पूर्व सीएम उमर अब्दुल्ला संबोधित करेंगे. अंतिम सत्र में वित्त मंत्री अरुण जेटली अपने विचार रखेंगे.

न्यूज18 इंडिया के मैनेजिंग एडिटर प्रबल प्रताप सिंह का कहना है कि हिंदुस्तान राइज कर रहा है, उभर रहा है. राइजिंग इंडिया उभरते भारत की तस्वीर पेश कर रहा है. तमाम बड़े लोग जो पॉलिसी मेकर्स हैं, जिनका समाज के लिए योगदान है. उनके योगदान ने कैसे समाज में बदलाव लाया है, उनसे हम इस मंच पर रूबरू होंगे. यह अकेला ऐसा मंच है जिसमें हर क्षेत्र के लोग आएंगे, बातचीत करेंगे.

Live Share Market

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Live Updates COVID-19 CASES