bharatHamar bilaspurHamar Chhattisgarhindia

छ.ग. महतारी दुलार योजना-2021 के संबंध में

राज्य में कोरोना महामारी से मृत छ.ग. के निवासियों के बेसहारा/अनाथ बच्चों को निःशुल्क स्कूली शिक्षा की उपलब्धता सुनिश्चित करने के साथ छात्रवृत्ति प्रदाय किये जाने के उद्देश्य से शासन द्वारा ‘‘ छ.ग. महतारी दुलार योजना-2021’’ के क्रियान्वयन हेतु अधिसूचना जारी की गई है। इसका क्रियान्वयन स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा किया जाना है।

छ.ग. के निवासी ऐसे बच्चे जिनके परिवार से कमाने वाले माता या पिता या दोनों की मृत्यु कोविड-19 से हुई हो, जो स्कूली शिक्षा प्राप्त करने हेतु आयु संबंधी पात्रता रखते हों और जिनके घर में कमाने वाले वयस्क सदस्य के न रहने के कारण भरण पोषण की समस्या हो गई हो ; इस योजना से लाभान्वित हो सकते है।

पात्र बच्चों को शासकीय शालाओं में निःशुल्क शिक्षा उपलब्ध कराने के साथ ही ‘स्वामी आत्मानन्द शासकीय अंग्रेजी माध्यम विद्यालय’ में प्रवेश में प्राथमिकता दी जायेगी। जिनके माता-पिता दोनों की कोरोना से मृत्यु हो गई है, उनके शिक्षा का संपूर्ण व्यय शासन वहन करेगा। पात्र बच्चों को कक्षा 1 से 8 तक – रूपये 500/- प्रतिमाह एवं कक्षा 9 से 12 तक – रूपये 1000/- प्रतिमाह छात्रवृत्ति देय होगी। साथ ही पात्र छात्रों को स्कूल शिक्षा के उपरान्त उच्च शिक्षा हेतु प्रोत्साहन दिया जायेगा।

योजना का लाभ लेने हेतु छात्र स्वयं या अभिभावक द्वारा कार्यालय कलेक्टर/जिला शिक्षा अधिकारी को सीधे आवेदन कर सकते हैं।

योजना के संबंध में छ.ग. शासन द्वारा जारी मार्गदर्शी निर्देश लागू होंगे।

जिला शिक्षा अधिकारी

जिला गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही (छ.ग.)

Related Articles

Back to top button
close button