world

विक्रम मिस्त्री बने चीन में भारत के नए राजदूत, पीएमओ और विदेश मंत्रालय में संभाली हैं बड़ी जिम्मेदारियां



चीन में भारत के नए राजदूत विक्रम मिस्त्री ने मंगलवार को पदभार ग्रहण कर लिया और चीन के शीर्ष अधिकारियों के साथ बैठक की, जिसमें उन्होंने चीन और भारत के संबंधों पर चर्चा की.

54 साल के मिस्त्री ने बीजिंग में विदेश मंत्रालय में प्रोटोकॉल के उपमहानिदेशक होंग ली को अपने परिचय पत्र की प्रति सौंपी.

‘A new beginning’
Newly appointed Ambassador of India to China @VikramMisri presented a copy of his credentials to Mr Hong Lei, Deputy Director General of Protocol at the Ministry of Foreign Affairs in Beijing today. pic.twitter.com/Ow8AwwFe2W

— India in China (@EOIBeijing) January 8, 2019

यहां भारतीय दूतावास ने ट्वीट किया कि मिस्त्री ने चीनी विदेश मंत्रालय में एशियाई मामलों के महानिदेशक वु जियांगझाओ से मुलाकात की और भारत और चीन के बीच द्विपक्षीय संबंधों पर अपने विचार साझा किए.

Ambassador @VikramMisri met with Mr Wu Jianghao, Director General of Asian Affairs at the MFA and exchanged views on India-China bilateral relations. pic.twitter.com/sPjuYx2tit
— India in China (@EOIBeijing) January 8, 2019

1989 बैच के भारतीय विदेश सेवा (आईएफएस) अधिकारी मिस्त्री गौतम बम्बावाले की जगह लेंगे जो पिछले साल नवंबर में रिटायर हुए थे.

मिस्त्री ने ऐसे समय में कार्यभार संभाला है जब भारत और चीन 2017 डोकलाम गतिरोध को पीछे छोड़कर विभिन्न क्षेत्रों में सहयोग बढ़ाने के प्रयास कर रहे हैं.

इससे पहले मिस्त्री म्यामां में भारत के राजदूत के तौर पर सेवाएं दे चुके हैं. मिस्त्री प्रधानमंत्री कार्यालय के साथ-साथ विदेश मंत्रालय में भी अलग-अलग पदों पर काम कर चुके हैं. उन्होंने यूरोप, अफ्रीका, एशिया और उत्तर अमेरिका सहित भारत के कई दूतावासों में सेवाएं दी हैं.

मिस्त्री का जन्म सात नवंबर, 1964 को श्रीनगर में हुआ था. उन्होंने ग्वालियर के सिंधिया स्कूल से अपनी स्कूली शिक्षा पूरी की और दिल्ली यूनिवर्सिटी के हिंदू कॉलेज से इतिहास में ग्रेजुएशन डिग्री हासिल की. मिस्त्री ने एक्सएलआरआई, जमशेदपुर से एमबीए की डिग्री भी ली है.

Live Share Market

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Live Updates COVID-19 CASES