world

यूएस में गिरफ्तार छात्रों को भारत सरकार की मदद, मिला कॉन्सुलर एक्सेस



यूएस सरकार के आंकड़ों के मुताबिक, 129 भारतीय नागरिकों को 31 जनवरी को प्रशासनिक रूप से गिरफ्तार किया गया है. यह गिरफ्तारी यूनिवर्सिटी में उनके नामांकन के संबंध में की गई है. हमने 117 को कॉन्सुलर एक्सेस मुहैया करवाया है.

MEA: According to U.S. Government statistics, 129 Indian nationals had been administratively arrested as on 31 January in connection with their enrollment at the ‘university’. We have obtained consular access to the 117 of them. (1/2) pic.twitter.com/wTyQZLHkHr
— ANI (@ANI) February 5, 2019

कॉन्सुलर एक्सेस बचे हुए करीब एक दर्जन छात्रों तक भी पहुंचाया जा रहा है. इसमें 24/7 हेल्पलाइन सेटअप एंबेसी और अन्य लोगों क पहुंचाई जा रही है.

MEA: Consular access to the remaining students, estimated at about a dozen, are continuing, including through the 24/7 helpline set up by the Embassy and outreach to the community. (2/2) https://t.co/0JXQGLgJmH
— ANI (@ANI) February 5, 2019

सोमवार को भी स्टेट डिपार्टमेंट के एक प्रवक्ता की ओर से यही बात दोहराई गई. उन्होंने कहा, ‘इस स्कीम में शामिल सभी लोगों को पता था कि फार्मिंगटन यूनिवर्सिटी फेक है और ऑनलाइन या ऑफलाइन किसी भी तरह को कोई क्लास नहीं चलती, लेकिन अमेरिका में अवैध तरीके से बने रहने के लिए इन्होंने इसमें एडमिशन लिया.’

भारत इस पूरे मामले पर कड़ी नजर बनाए हुए हैं. भारत की ओर से 2 फरवरी को इन छात्रों के कॉन्सुलर एक्सेस की मांग की गई थी. भारत ने इन छात्रों की खैरियत की चिंता भी जताई थी. शनिवार को कॉन्सुलर ऑफिसर्स को 30 छात्रों से मिलने दिया गया था.

Related Articles

Back to top button