पाकिस्तान में हिंदू मंदिर पर हमला, PM इमरान ने कड़ी कार्रवाई के दिए आदेश

1




पाकिस्तान के सिंध प्रांत में असमाजिक तत्वों ने हिंदू मंदिर में तोड़फोड़ कर वहां रखे पवित्र ग्रंथों और मूर्तियों में आग लगा दी. प्रधानमंत्री इमरान खान ने इस पर कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए दोषियों के खिलाफ तेजी से और ठोस कार्रवाई का आदेश दिया है.

यह घटना खैरपुर जिले के कुंब शहर में पिछले सप्ताह हुई. मंदिर में तोड़फोड़ के बाद अज्ञात हमलावर फरार हो गए. इमरान खान ने मंगलवार को ट्विटर पर प्रांतीय प्रशासन से दोषियों के खिलाफ तीव्र कार्रवाई करने के लिए कहा.

उन्होंने कहा, ‘सिंध सरकार को दोषियों के खिलाफ तेज और ठोस कार्रवाई करनी चाहिए. यह कुरान की शिक्षा के खिलाफ है.’

The govt of Sindh must take swift and decisive action against the perpetrators. This is against the teachings of the Quran. pic.twitter.com/aNr9uAkyTk
— Imran Khan (@ImranKhanPTI) February 5, 2019

इस घटना से स्थानीय हिंदू समुदाय में गहरी नाराजगी है. समा टीवी ने बताया कि घटना के बाद इलाके के हिंदुओं ने शहर में प्रदर्शन किया. उन्होंने अज्ञात हमलावरों के खिलाफ पुलिस में मामला दर्ज कराया है.

इमरान खान

हिंदू मंदिरों की सुरक्षा के लिए विशेष कार्य बल गठित करने की मांग

पाकिस्तान हिंदू परिषद के सलाहकार राजेश कुमार हरदसानी ने हिंदू मंदिरों की सुरक्षा के लिए विशेष कार्य बल गठित करने की मांग की. उन्होंने कहा, ‘इस कृत्य ने हिंदू समुदाय के बीच अशांति पैदा कर दी है. इन तरह के हमले देशभर में धार्मिक सौहार्द का माहौल बिगाड़ने की कोशिश के तहत किए जाते हैं.’

यह मंदिर समुदाय के लोगों के घरों के पास था इसलिए उन्होंने मंदिर की देखभाल करने के लिए किसी को नहीं रखा था. उन्हें लगता था कि यह सुरक्षित है.

इस बीच पुलिस ने कहा है कि वो हमलावर की तलाश कर रही है लेकिन अभी तक कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है. अभी तक किसी भी व्यक्ति या समूह ने हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है.

बता दें कि 1947 में आजादी के वक्त धर्म के नाम पर पाकिस्तान का गठन हुआ था. मुस्लिम बहुल पाकिस्तान की 22 करोड़ आबादी में हिंदू लगभग दो फीसदी हैं. इनमें से ज्यादातर हिंदू सिंध प्रांत में रहते हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here