world

आखिर किसने लीक की है Jeff Bezos की 'Dirty Picture'?



लगता है कि एमेजॉन के फाउंडर जेफ बेजोस का वक्त इस समय अच्छा नहीं चल रहा. अभी कुछ दिनों पहले उन्होंने अपनी पत्नी के साथ तलाक की घोषणा की थी, हालांकि, दोनों काफी वक्त पहले एक-दूसरे से अलग हो गए हैं. तलाक की खबर आने के बाद उनके अफेयर की खबरें आई थीं. अब उनके कुछ प्राइवेट मैसेज लीक हो गए हैं, जिसकी वजह से मामला कानूनी हो गया है.

दरअसल, पिछले महीने उनकी तलाक की खबर आने के बाद नेशनल इन्क्वायरर टैब्लॉयड ने एक आर्टिकल छापा था, जिसमें दावा किया गया था कि जेफ बेजोस की एक पूर्व टीवी एंकर लॉरेन सांचेज से एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर चल रहा है. इसके साथ ही कुछ प्राइवेट मैसेज भी छापे गए थे. टैब्लॉयड के पास उनके कुछ आपत्तिजनक फोटो भी हैं.

जेफ बेजोस इसके बाद टैब्लॉयड पर काफी भड़क गए. उन्होंने आरोप लगाया था कि इन प्राइवेट मैसेजेस को लेकर टैब्लॉयड ने उन्हें ब्लैकमेल किया और पैसे उगाहने की कोशिश की. इस पर टैब के वकील की ओर से कहा गया है कि इन्क्वायरर की ओर से ऐसा कुछ भी करने की कोशिश नहीं की थी और उन्हें ये मैसेज किसी भरोसेमंद सूत्र से हासिल हुए थे.

न्यूज18 की खबर के मुताबिक, नेशनल इन्क्वायरर की पैरेंट कंपनी अमेरिकन मीडिया इंक के चीफ एक्जीक्यूटिव डेविड पेकर को वकील एल्कान अब्रमोविट्ज ने कहा कि ये बिल्कुल भी एक्सटॉर्शन या ब्लैकमेल का केस नहीं है. उन्होंने बताया कि ये जानकारी नेशनल इन्क्वायरर को एक भरोसेमंद सूत्र की ओर से सात साल पहले ही दी गई थी. ये सूत्र बेजोस और लॉरेन सांचेज को काफी अच्छे से जानता था.

जब इशारे सांचेज के भाई माइकल की ओर किए गए तो अब्रामोविट्ज ने कहा कि वो किसी का नाम नहीं ले सकते. वो बस इतना कह सकते हैं कि ‘ये डोनाल्ड ट्रंप ने नहीं किया है, सऊदी अरब ने नहीं किया है, रोजर स्टोन ने नहीं किया है, लेकिन मैं आपको सूत्र का नाम नहीं बता सकता.’

बता दें बेजोस ने कहा था कि ये उनके खिलाफ प्रो-ट्रंप ताकतों की ओर से उठाया गया है, क्योंकि वॉशिंगटन पोस्ट ने ट्रंप के खिलाफ जमाल खशोगी की हत्या पर कवरेज किया था और वो वॉशिंगटन पोस्ट के मालिक हैं.

Live Share Market

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Live Updates COVID-19 CASES