Metro

रोडरेज के बहाने कारोबारी को अगवा कर 2 करोड़ की फिरौती मांगने का था प्लान, लेकिन…

नई दिल्ली
फॉर्चूनर कार सवार कारोबारी को रोडरेज के बहाने से अगवा करने की कोशिश की गई। घटना मुंडका इलाके की है। पुलिस ने 4 बदमाशों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों की पहचान हरियाणा के बहादुरगढ़ निवासी 28 वर्षीय सुमित दलाल, 27 वर्षीय विजय, 25 वर्षीय अमित और 21 वर्षीय सुमित दहिया के रूप में हुई है। इनमें सुमित दलाल मास्टरमाइंड है। वह दो साल पहले कारोबारी की पत्नी की गाड़ी चलाता था और उसे कारोबारी के बारे में सारी जानकारी थी। पुलिस ने आरोपियों के कब्जे से एक पिस्टल, तीन कारतूस, एक टॉय गन और वारदात में इस्तेमाल होंडा सिविक कार बरामद कर ली है।

रोडरेज के बहाने थी किडनैपिंग की प्लानिंग
डीसीपी परविंदर सिंह के मुताबिक 23 जून की रात पुलिस को सूचना मिली कि मुंडका इलाके में होंडा सिविक कार सवार बदमाश एक कारोबारी से लूटपाट कर पीरागढ़ी की तरफ भागे हैं। सूचना मिलते ही पुलिस घटनास्थल पर पहुंची। जहां पुलिस को पंजाबी बाग निवासी कारोबारी अमित चौधरी मिले। उन्होंने पुलिस को बताया कि बदमाशों ने अपनी कार से उसकी फॉर्चूनर कार को पीछे से टक्कर मारी और रोडरेज के बहाने गोली मारने की धमकी देकर उन्हें जबरदस्ती कार में बिठाने लगे। उनके शोर मचाने पर बदमाश मोबाइल और कार की चाबी लेकर फरार हो गए। पुलिस ने बदमाशों के भागने की दिशा में उनका पीछा किया। कुछ दूर पर पुलिसकर्मियों ने बदमाशों की कार देख ली। पुलिस को पीछा करते देख बदमाश घबरा गए और ऐसे रास्ते में घुस गए, जिसके आगे रास्ता बंद था। बदमाश कार को मैदान में छोड़कर फरार हो गए। पुलिस ने होंडा सिविक कार को जब्त कर लिया और उसके मालिक की पहचान करने लगे। कार में नंबर प्लेट नहीं थी। जांच करने पर पता चला कि कार सुमित दलाल के नाम पर रजिस्टर्ड है। पुलिस ने सुमित दलाल की तलाश की और उसे विजय के साथ गिरफ्तार कर लिया।

दो करोड़ रुपये की उगाही था मकसद
पूछताछ में सुमित ने बताया कि उनका मकसद रोडरेज को अंजाम देकर लूटपाट करना नहीं था। बल्कि वह कारोबारी को अगवा कर उसके परिवार वालों से 2 करोड़ रुपये की उगाही करना चाहते थे। उसने बताया कि दो साल पहले वह कारोबारी की पत्नी की कार चलाता था। उसे पता था कि उनके पास मोटी रकम है। यही सोचकर साजिश रची। पुलिस ने सुमित की निशानदेही पर फरार दो आरोपियों अमित और सुमित दहिया को भी गिरफ्तार कर लिया। पुलिस से बचने के लिए अमित ने अपना सिर मुंडवा लिया था।

Related Articles

Back to top button