Hamar Chhattisgarhindia

प्लाटून कमांडर रामदेव भगत पर किया गया जानलेवा हमला

रायपुर: जगदलपुर की 19वीं बटालियन में तैनात प्लाटून कमांडर रामदेव भगत पर जानलेवा हमला किया गया है। उनका आरोप है कि उनकी बटालियन के साथी जवानों ने बेवजह जान से मारने की नीयत से पानी में जहर मिलाकर पिलाने की कोशिश की और कई किमी दूर तक जंगल में दौड़ाकर पीटा जिससे चेहरे, हाथ समेत कई जगहों पर गहरा जख्म हो गया। इसे लेकर उसने आला-अफसरों से शिकायत की है।

दरअसल पीसी रामदेव भगत ने बताया कि उसकी कंपनी भोपालपट्टम में तैनात है। उसकी एक मामले में जांच चल रही है। बुधवार को जगदलपुर स्थित बटालियन दफ्तर बुलाया गया था। वह रात में ठहरा था। देर रात साथी जवानों ने उसके साथ मारपीट की।

पानी में जहर मिलाकर उसे पिलाने की कोशिश की गई लेकिन उसने मना कर दिया। इसके बाद वह कमरे से बाहर निकल गया। इस दौरान साथी जवानों ने उसे दौड़ाया। वह जंगल की तरफ भागा।

वहां जवानों ने उसकी पिटाई कर दी जिससे उसके चेहरे समेत शरीर पर कई जगह गहरा जख्म हो गए। इसके बाद वह करीब 10 किमी पैदल चलकर सड़क मार्ग पर पहुंचा और वहां से रायपुर आया। कमांडेंट धर्मेंद्र गर्ग ने बताया कि पीसी रामदेव और उसके साथी जवानों से कहासुनी हुई थी। उसके साथ मारपीट नहीं की गई है। हालांकि मामले की जांच कराई जा रही है।

Related Articles

Back to top button