Metro

तीसरा मोर्चा:शरद पवार की मीटिंग से शिवसेना गायब, संजय राउत ने बताई वजह!

मुंबई
फिलहाल शरद पवार देशभर में बीजेपी के खिलाफ आवाज बुलंद करने वाले राजनीतिक दलों को इकट्ठा करने की मुहिम में जुटे हुए हैं। राजनीति के चाणक्य शरद पवार ने आज मंगलवार को दिल्ली स्थित अपने आवास पर तमाम बीजेपी विरोधी पार्टियों के नेताओं की बुलाई है लेकिन इस बैठक में महाविकास अघाड़ी सरकार में शामिल शिवसेना का कोई प्रतिनिधि नजर नहीं आया।

इस पर जब संजय राउत से सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि यह राष्ट्रमंच की बैठक है कोई विरोधी दलों की बैठक नहीं है। इसलिए इस बैठक में जाने का सवाल ही नहीं पैदा होता है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस और शिवसेना के बिना तीसरी तीसरे मोर्चे का गठन संभव नहीं है। राउत ने कहा कि इस बैठक में कांग्रेस, समाजवादी पार्टी, बसपा, चंद्रबाबू नायडू, चंद्रशेखर राव कहां हैं। क्या उनका कोई अलग थर्ड फ्रंट है? राउत ने कहा कि यह यशवंत सिन्हा द्वारा गठित राष्ट्रमंच की बैठक है।

पवार से फोन पर चर्चा
संजय राउत ने कहा कि सोमवार को शरद पवार से फोन पर इस मुद्दे पर चर्चा हुई थी। जिसमें यह पता चला कि यशवंत सिन्हा की राष्ट्रमंच के कुछ मुद्दे हैं जिनपर चर्चा होनी है। पवार देश के बड़े और अनुभवी नेता है, तमाम लोग लोग सलाह मशवरे के लिए आते हैं।

मोदी विरोधी शब्द गलत
संजय राउत ने कहा कि मोदी विरोधी या बीजेपी विरोधी जैसे शब्दों का इस्तेमाल करना गलत है। देश को एक मजबूत विरोधी पक्ष की जरूरत है और इसी को बनाने का प्रयास शरद पवार कर रहे हैं। उन्होंने महाराष्ट्र बीजेपी के अध्यक्ष चंद्रकांत पाटील पर भी निशाना साधते हुए कहा कि राज्य में शिवसेना और एनसीपी एक साथ हैं इसलिए बीजेपी सत्ता से बाहर है। ऐसे में उनके दुख को हम समझ सकते हैं।

Related Articles

Back to top button