Metro

'यूपी में बंगाल जैसी गलती ना दोहराएं'…मिशन-2022 का रोडमैप तैयार, बीजेपी का ये प्लान

लखनऊ
एक ही महीने में दूसरी बार भाजपा के राष्ट्रीय संगठन मंत्री बीएल संतोष सोमवार को यूपी प्रभारी राधा मोहन सिंह के साथ प्रदेश के दौरे पर लखनऊ पहुंचे। इस बार वह एक साथ राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ, भाजपा और सरकार तीनों के साथ अगले विधानसभा चुनाव के अजेंडे की तलाश में बैठे।

देर शाम मुख्यमंत्री आवास पर संघ के सह सरकार्यवाह कृष्णगोपाल और क्षेत्र प्रचारकों अनिल और महेंद्र कुमार के साथ कोर कमिटी के सदस्यों की मौजूदगी में इस पर साढ़े तीन घंटे तक मंथन हुआ। आखिर में इस पर सहमति बनी कि भाजपा, सांस्कृतिक राष्ट्रवाद, विकास कार्यों के साथ संकल्प पत्र में अपने पूरे हुए वादों के साथ चुनावी मैदान में उतरेगी। इस राय के साथ संतोष दिल्ली जाकर केंद्रीय नेतृत्व के साथ बैठेंगे और अजेंडे को अंतिम रूप दिया जाएगा।

जल्दी पूरे करें संकल्प पत्र के वादे
बीएल संतोष ने 2017 विधानसभा चुनाव के भाजपा के लोक संकल्प पत्र में किए गए वादों के पूरे होने की जानकारी भी ली। उन्हें बताया गया कि ज्यादातर वादे सरकार पूरे कर चुकी है, बाकी जल्दी पूरे कर लिए जाएंगे। मंथन में सामने आया कि अयोध्या में विकास कार्यों के साथ राम मंदिर निर्माण, काशी विश्वनाथ कॉरिडोर का निर्माण तेज गति पर है।

संतोष ने कहा कि यूपी सरकार अयोध्या में दीपावली के साथ बरसाने में होली मनाने के साथ कांवड़ यात्रा को निकलवाकर सांस्कृतिक राष्ट्रवाद को प्रसारित करने में मददगार बनी है। सुझाव आया कि अगले चुनाव में विपक्षी दलों की जातीय राजनीति से निपटने में सांस्कृतिक राष्ट्रवाद, विकास और हिंदुत्व की यही राह मददगार बनेगी।

राम जन्मभूमि ट्रस्ट जमीन विवाद पर बात
सूत्रों के अनुसार सभी पदाधिकारी भाजपा मुख्यालय से निराला नगर स्थित राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ कार्यालय गए। उन्होंने कहा कि उन्होंने संघ कार्यालय में आरएसएस के क्षेत्र प्रचारक अनिल और अन्य पदाधिकारियों से 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव और राम जन्म भूमि ट्रस्ट जमीन संबंधी विवादों व चुनौतियों को लेकर चर्चा की।

अपना दल को मिल सकती हैं जौनपुर और मिर्जापुर सीटें
पार्टी नेता ने बताया कि करीब तीन घंटे तक चली इस बैठक में तीन जुलाई को होने जा रहे जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव में बीजेपी दो सीटें सहयोगी पार्टी अपना दल को देगी। बाकी 73 जिलों में बीजेपी अपने प्रत्याशी लड़ाएगी। बीजेपी राज्य मुख्यालय से कोई सूची नहीं जारी करेगी। जिलाध्यक्ष ही सूची जारी करेंगे। अपना दल को दी जाने वाली यह दो सीटें कौन सी होंगी, इसकी घोषणा जल्दी की जाएगी। माना जा रहा हैं कि जौनपुर और मिर्जापुर पर सहमति बन सकती है।

जमीनी माहौल सुधारने में जुटेंगे बीजेपी-संघ
संघ के क्षेत्र प्रचारकों के साथ हुई बैठक में बीएल संतोष ने उन मुद्दों को जानने की कोशिश की, जो विधानसभा चुनाव से पहले विपक्ष के लिए बड़ा मुद्दा बन सकते हैं। इसमें कोरोना काल में हुए बेड, ऑक्सिजन संकट के अलावा पंचायत चुनाव के बाद शिक्षकों से जुड़े मुद्दों पर बात हुई। मंदिर ट्रस्ट में जमीन खरीद को लेकर हो रहे सवालों से भी संघ चिंतित है, इन सारे मुद्दों का सच जनता के बीच पहुंचाने के लिए बीजेपी और आरएसएस के कार्यकर्ता जनता के बीच जाएंगे। इससे जमीनी माहौल सुधारा जाएगा। इस दौरान कार्यकर्ताओं के असंतोष को रोकने के लिए उनके समायोजन पर भी चर्चा हुई। बताया गया कि आयोगों में भर्ती शुरू हो चुकी है। संगठन में ज्यादातर पद भर लिए गए हैं। इसके साथ ही जनता से जुड़े अभियानों में मंत्रियों, सांसदों और विधायकों को मौजूद रहने को कहा गया।

योगी-मंत्रियों के साथ आज होगा मंथन
बीएल संतोष मंगलवार को सीएम योगी और मंत्रियों के साथ शाम को बीजेपी मुख्यालय में बैठेंगे। उनके साथ यूपी प्रभारी राधा मोहन सिंह, प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह और प्रदेश संगठन महामंत्री सुनील बंसल भी मौजूद रहेंगे। इस दौरान वह मंत्रियों से उनके विभागों में हुए कामकाज का ब्योरा लिया जाएगा।

Related Articles

Back to top button