यहाँ और भी जानकारी है। 
Hamar Chhattisgarhindia

​​​​​​​बस्तरवासियों की इच्छा के अनुरूप हो रहा है बस्तर का विकास : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल

  • चित्रकूट जलप्रपात परिसर में लाईट एंड साउंड शो की घोषणा
  • बीजापुर में बनेगी सर्व सुविधायुक्त सेंट्रल लाईब्रेरी
  • कनकापाल से लेढा एवं झीरम घाटी से ईलमनार सड़क का होगा निर्माण

रायपुर, 21 जून 2021 : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज बस्तर, बीजापुर और सुकमा जिले में विकास एवं निर्माण कार्यो के लोकार्पण एवं भूमिपूजन के वर्चुअल कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि बस्तर के किसान और वनवासी बस्तर का जैसा विकास चाहते हैं, वैसा ही विकास कर रहे हैं। बस्तर के विकास की दिशा कैसी होगी, इसे बस्तर के लोग तय कर रहे हैं। इसलिए बस्तर में अब तेजी से शांति के रास्ते खुल रहे हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि जब लोगों को उनके अधिकार मिलते हैं, उनके साथ न्याय होता है, रोजगार मिलता है, शिक्षा और स्वास्थ्य की सुविधा सुलभ होती है। बिजली, पेयजल एवं आवागमन की व्यवस्था सुगम होती है, तो समृद्धि आती है। समृद्धि से शांति और विकास का मार्ग प्रशस्त होता है।

सर्व सुविधायुक्त सेंट्रल लाईब्रेरी की स्थापना

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इस मौके पर मंत्री कवासी लखमा, बस्तर के सांसद दीपक बैज सहित सभी विधायकगणों के आग्रह पर चित्रकूट जलप्रपात परिसर में लाईट एंड साउंड शो सिस्टम, बीजापुर में सर्व सुविधायुक्त सेंट्रल लाईब्रेरी की स्थापना, कनकापाल से लेढा एवं झीरम घाटी से ईलमनार सड़क का निर्माण कराए जाने की घोषणा की। मुख्यमंत्री ने विधायकगणों की मांग पर नवीन तहसीलों तथा ब्लॉक मुख्यालयों के अलावा ग्रामीण अंचल में स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम स्कूल की स्थापना के प्रस्ताव का परीक्षण कराए जाने की बात कही।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि बस्तर अंचल के लोगों के जीवन स्तर में बदलाव आए, यहीं हम चाहते हैं। मुख्यमंत्री ने बस्तर अंचल के सभी जिलों में शासन की योजनाओं एवं कार्यक्रमों के क्रियान्वयन और इसके जरिए लोगों के जीवन स्तर को बेहतर बनाने के लिए किए जा रहे प्रयासों के सराहना की। मुख्यमंत्री ने कहा कि बस्तर अंचल में खेती-किसानी, पर्यटन, लघु वनोपजों के संग्रहण एवं प्रसंस्करण के क्षेत्र में बढ़िया काम हो रहा है।

युवोदय एकेडमी

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इस अवसर पर जिला प्रशासन बस्तर द्वारा युवाओं को प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए मोबाइल एप ‘‘युवोदय एकेडमी’’, पर्यटकों को बस्तर जिले के पर्यटन स्थल की जानकारी देने के लिए टेªबल बस्तर डॉटकॉम वेबसाईट और नवाचार को प्रोत्साहित एवं स्व-उद्यमिता में रूचि रखने वाले बस्तर के युवाओं के सहयोग के लिए गठित सोसायटी ‘‘थिंक-बी’’ के लोगो को लॉन्च किया।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इस अवसर पर बस्तर, बीजापुर और सुकमा जिले में 642 करोड़ रूपए के विकास एवं निर्माण कार्यो का लोकार्पण और भूमिपूजन किया, जिसमें बीजापुर जिले में 380.36 करोड़ की लागत के 721 कार्य, बस्तर जिले में 167.21 करोड़ की लागत के 70 कार्य तथा सुकमा जिले में 94.10 करोड़ रूपए की लागत के 88 विकास एवं निर्माण कार्य शामिल हैं। मुख्यमंत्री ने इस मौके पर स्व-सहायता समूह की सदस्य महिलाओं तथा शासन की विभिन्न योजनाओं एवं कार्यक्रम से लाभान्वित हितग्राहियों से चर्चा की और उन्हें बधाई और शुभकामनाएं दी।

स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ.प्रेमसाय सिंह टेकाम

कार्यक्रम को स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ.प्रेमसाय सिंह टेकाम, उद्योग मंत्री  कवासी लखमा, राजस्व एवं आपदा प्रबंधन मंत्री जयसिंह अग्रवाल, बस्तर के सांसद दीपक बैज ने सम्बोधित करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में बस्तर तेजी से बदलाव की ओर बढ़ रहा है। बस्तर अंचल में खेती-किसानी, पर्यटन, रोजगार एवं खेल को बढ़ावा मिल रहा है। संवेदनशील क्षेत्रों में बिजली, पानी, आवागमन, शिक्षा एवं स्वास्थ्य जैसी सुविधाएं बेहतर हो रही हैं।

सांसद दीपक बैज ने बस्तर सहित पूरे छत्तीसगढ़ राज्य के ग्रामीण अंचल की अर्थव्यवस्था को बेहतर बनाने के लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की सराहना की। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री बघेल के प्रशासन और प्रबंधन के आज सभी कायल हैं। कार्यक्रम को संसदीय सचिव  रेखचंद जैन, बस्तर विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष लखेश्वर बघेल, विधायक एवं हस्त शिल्प बोर्ड के अध्यक्ष चंदन कश्यप, विधायक एवं बस्तर विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष विक्रम मण्डावी, जिला पंचायत सुकमा के अध्यक्ष हरीश कवासी लखमा ने भी सम्बोधित किया और कहा कि बीते ढाई सालों में बस्तर अंचल में विकास की एक नई बयार बहने लगी है। छत्तीसगढ़ सरकार की योजनाओं और फैसलों से लोगों की सामाजिक एवं आर्थिक स्थिति बेहतर हुई है।

Related Articles

Back to top button