Metro

यूपी चुनाव में योगी नहीं होंगे CM फेस? केशव के बाद अब स्वामी ने बढ़ाया सस्पेंस

लखनऊअगले साल होने वाले यूपी विधानसभा चुनाव से पहले यूपी में सीएम फेस को लेकर फैला भ्रम खत्म होने का नाम नहीं ले रहा। रविवार को बीजेपी दफ्तर में संगठन की मीटिंग में भाग लेने आए सरकार के श्रम मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य ने यह कहकर इसे और आगे बढ़ा दिया कि चुनाव जीतने के बाद केंद्रीय नेतृत्व ही यूपी में सीएम का चेहरा तय करेगा।

स्वामी प्रसाद का यह बयान यूपी के डेप्युटी सीएम केशव प्रसाद मौर्य के बयान के बाद आया है। केशव मौर्य भी यह कह चुके हैं कि बीजेपी की परंपरा रही है कि केंद्रीय नेतृत्व ही सीएम फेस तय करता है। हम पहले केवल चुनाव जीतने पर ही फोकस कर रहे हैं।

स्वतंत्रदेव सिंह ने दिया था यह बयान
हालांकि इससे इतर यूपी बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह साफ कह चुके हैं कि प्रदेश में चुनाव सीएम योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में ही होंगे। उनसे ज्यादा परिश्रमी और ईमानदार मुख्यमंत्री कौन है?

2017 में भी नहीं तय किया था चेहरा
स्वामी प्रसाद मौर्य ने पत्रकारों के इस सवाल पर कि बीजेपी का सीएम फेस कौन होगा? कहा कि 2017 में भी बीजेपी ने सीएम का चेहरा घोषित नहीं किया था। 2022 में भी संगठन और केंद्र ही इस बारे में आखिरी फैसला लेगा।

स्वामी प्रसाद ने कहा कि हमें पहले चुनाव की तैयारी करनी है। इसके लिए संगठन ने रणनीति बनानी शुरू कर दी है। हम इस बार भी ज्यादा से ज्यादा सीटें जीतकर आएंगे। उन्होंने दूसरी पार्टियों से नेताओं के बीजेपी में आने का खुला न्योता देते हुए कहा कि ऐसे नेताओं का बीजपी में स्वागत है। बीएसपी में हुई बगावत को लेकर स्वामी ने तंज कसते हुए कहा कि अब बीएसपी में मायावती के अलावा कोई भी नहीं बचा है।

अलग-अलग बयान से भ्रम
बीजेपी में सीएम फेस को लेकर नेताओं के अलग-अलग बयानों चुनाव से पहले यूपी में भ्रम की स्थिति पैदा हो गई है। प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह और रक्षामंत्री राजनाथ सिंह खुलकर सीएम योगी के कामकाज की तारीफ कर चुके हैं। उनका कहना है कि योगी के नेतृत्व में ही अगले चुनाव होंगे। वहीं डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य और कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य सीएम फेस को लेकर साफ कह चुके हैं कि यह तय करना केंद्रीय नेतृत्व का काम है।

Related Articles

Back to top button