मध्य प्रदेश के राज्यपाल की तबीयत में सुधार नहीं, कई दिन से वेंटिलेटर सपोर्ट पर हैं लालजी टंडन

1

नई दिल्ली: मध्य प्रदेश के राज्यपाल लालजी टंडन की तबियत में सुधार नहीं हो रही है। पिछले कई दिनों से उनकी तबीयत नाजुक बनी हुई है और वो वेंटिलेटर सपोर्ट पर है। उन्हें सांस लेने में लगातार दिक्कत हो रही है। उनका फेफड़ा, गुर्दा और लिवर भी ठीक से काम नहीं कर रहा है। जिसकी वजह से डायलिसिस की जा रही है।

मध्य प्रदेश के राज्यपाल लालजी टंडन को 11 जून को पेशाब में दिक्कत के साथ बुखार होने पर लखनऊ के मेदांता हॉस्पिटल में भर्ती कराया था। 13 जून को पेट का ऑपरेशन भी किया गया गया था। मेदान्ता अस्पताल के मेडिकल डायरेक्टर डॉ. राकेश कपूर का कहना हैं कि राज्यपाल टंडन की तबियत नाजुक है और क्रिटिकल केयर मेडिसिन के डॉक्टरों की निगरानी में उनका इलाज चल रहा है।

शुरुआती पड़ताल में डॉक्टरों को पेशाब में संक्रमण का पता चलने पर इलाज शुरू किया। जांच के दौरान राज्यपाल के लिवर में दिक्कत पाए जाने पर सीटी गाइडेड प्रोसीजर किया गया। प्रोसीजर के दौरान पेट में रक्त का स्राव बढ़ गया, जिसके चलते उनका इमरजेंसी में ऑपरेशन किया गया था।

डॉक्टरों के मुताबिक बीच में राज्यपाल लालजी टंडन की हालत में सुधार हुआ था। वे खाना फूड पाइप के जरिए ले रहे थे। राज्यपाल लालजी टंडन का लिवर, किडनी और हार्ट बिना किसी सपोर्ट के काम कर रहा था। लेकिन, एक बार फिर उनकी तबीयत बिगड़ने के बाद वेंटिलेटर सपोर्ट पर रखकर उनका डायलिसिस किया जा रहा है।

आपको बता दें कि लालजी टंडन 10 दिन की छुट्टी पर लखनऊ पहुंचे थे, जिसके बाद अचानक उनकी तबीयत बिगड़ गई। 11 जून से ही वह लखनऊ के मेदांता अस्पताल में एडमिट हैं। उन्हें पेशाब में दिक्कत के साथ बुखार की शिकायत पर एडमिट कराया गया था। इसके बाद उन्हें पेशाब में इन्फेक्शन के साथ ही लिवर में दिक्कत का पता चला था। लिवर में दिक्कत पाए जाने पर सीटी गाइडेड भी प्रोसीजर किया गया। प्रोसीजर के बाद पेट में रक्त का स्राव बढ़ गया था। रक्त स्राव के चलते राज्यपाल इमरजेंसी ऑपरेशन भी किया गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here