Hamar Chhattisgarhindia

कीटनाशी रसायानों की गुणवत्ता बनाये रखने एवं सहकारी/निजी विक्रेताओं के गोदामों/प्रतिष्ठानों/विक्रय स्थलों का निरीक्षण करने हेतु निरीक्षक नियुक्त

ब्यूरो चीफ:- विपुल मिश्रा
रिपोर्टर :-शिव कुमार चौरसिया

बलरामपुर : 08 जून 2021 जिले में खरीफ सत्र 2021-22 की शुरूआत हो गई है, साथ ही बीज, उर्वरक एवं कीटनाशक का जिले के सहकारी एवं निजी प्रतिष्ठानो में भण्डारण तेजी से होने लगा है। वर्तमान में बलरामपुर-रामानुजगंज जिले में नवीन गठित समितियों के साथ कुल 37 सहकारी समिति है एवं निजी क्षेत्र में बीज के कुल 220, उर्वरक के 112 एवं कीटनाशक दवाई के 31 दुकान/प्रतिष्ठान पंजीकृत है।

वरिष्ठ कृषि कार्यालय द्वारा इस खरीफ सीजन में आदान सामग्री की गुणवत्ता बनाये रखने हेतु बीज के 125 एवं उर्वरक के 50 लक्ष्य प्राप्त हुए हैं। वर्तमान में सहकारी एवं निजी क्षेत्रों से बीज के 34 एवं उर्वरक के 31 नमूने परीक्षण हेतु संबंधित प्रयोगशाला में भेजा गया है। जिसे ध्यान में रखते हुए कृषि आदान सामग्री यथा बीज/उर्वरक/जैव उर्वरक एवं कीटनाशी रसायानों की गुणवत्ता बनाये रखने एवं जिले के सभी सहकारी/निजी विक्रेताओं के गोदामों/प्रतिष्ठानों/विक्रय स्थलों का निरीक्षण करने हेतु जिले के विकासखण्डों में बीज, उर्वरक, कीटनाशी निरीक्षकों को निरीक्षण हेतु आदेशित किया गया है।

निरीक्षक अपने अधीनस्थ समस्त बीज, उर्वरक एवं कीटनाशी विक्रय स्थलों, सहकारी/निजी प्रतिष्ठानों, गोदामों एवं दुकानों का निरीक्षण करेंगे। किन्हीं प्रतिष्ठानों में अनियमितता पाई जाती है तो उसके प्रति अनुशासनात्मक कार्यवाही करेंगे तथा निरीक्षण का साप्ताहिक रिपोर्ट प्रस्तुत करेंगे। विकासखण्ड राजपुर के लिए वरिष्ठ कृषि विस्तार अधिकारी,आर.सी.भगत, मो. 7771907445, विकासखण्ड वाड्रफनगर के लिए कृषि विस्तार अधिकारी,भूपेश कुमार गुप्ता, मो. 9754424563, विकासखण्ड शंकरगढ़ व कुसमी के लिए कृषि विस्तार अधिकारी हेमेन्द्र राठौर, मो.9826174809, विकासखण्ड बलरामपुर के लिए कृषि विस्तार अधिकारी मिथलेश कुमार चक्रधारी, मो. 8103232058 तथा विकासखण्ड रामानुजगंज के लिए कृषि विस्तार अधिकारी आशिष कुमार सिन्हा, मो. 9926849454 को निरीक्षक नियुक्त किया गया है।

Related Articles

Back to top button
close button