Metro

दिल्‍ली में आज से खुल गए मेट्रो, बाजार, मॉल, बाहर निकलें तो इन बातों का जरूर रखें ख्याल

नई दिल्‍ली
48 दिनों के लॉकडाउन के बाद, सोमवार से दिल्‍ली के बाजार और ऑफिस खुल जाएंगे। दिल्‍ली मेट्रो भी आधी क्षमता से चलने लगेगी। सरकारी ऑफिस खुलेंगे मगर मैनपावर सीमित रहेगी। कोविड-19 के मामलों और मौतों की संख्‍या में मई के मुकाबले खासी गिरावट आई है। फिर भी दिल्‍ली सरकार कोई चांस नहीं लेना चाहती। इसलिए धीरे-धीरे अनलॉक किया जा रहा है। आज से दिल्‍ली में क्‍या-क्‍या खुलेगा और क्‍या बंद रहेगा? किन बातों की इजाजत होगी? आपको किन शर्तों का ध्‍यान रखना होगा? आइए इन सवालों के जवाब जानते हैं।

  1. 7 जून से क्‍या-क्‍या खुलेगा?
    • मार्केट और मार्केट कॉम्‍पलेक्‍स (ऑड-ईवन)
    • मॉल्‍स (ऑड-ईवन)
    • शराब की दुकानें (ऑड-ईवन)
    • 50% क्षमता के साथ सरकारी और प्राइवेट ऑफिस
    • 50% क्षमता के साथ दिल्‍ली मेट्रो
    • जरूरी सामानों की दुकान (सभी दिन)
    • रेस्‍तरां (टेकअवे)
  2. दिल्‍ली में अभी क्‍या-क्‍या बंद रहेगा?
    • वीकली मार्केट्स
    • जिम
    • रेस्‍तरां
    • सिनेमा हॉल
    • सलून
    • स्‍पा
    • बार
    • एजुकेशनल इंस्टिट्यूट
    • पार्क
    • गार्डंस
    • पब्लिक प्‍लेसेज में शादियां
  3. सरकारी ऑफिसेज में क्‍या काम होंगे?
    • एक सरकारी अधिकारी ने कहा कि अभी पब्लिक डीलिंग से जुड़ा कोई काम नहीं होगा। सब-रजिस्‍ट्रार ऑफिसेज में प्रॉपर्टी रजिस्‍ट्रेशन की इजाजत दी जा सकती है। अधिकारी ने कहा, ‘दिल्‍ली सरकार की अधिकतर सेवाएं ऑनलाइन हैं और लोगों को उनका ज्‍यादा से ज्‍यादा इस्‍तेमााल करना चाहिए।’
    • दिल्‍ली डिवेलपमेंट अथॉरिटी के सूत्रों ने कहा कि उसके ऑफिसेज में पब्लिक डीलिंग बाद में शुरू होगी। बाद में भी अपॉइंटमेंट लेनी होगी।
    • तीन नगर निगमों के मेयर ने कहा है कि सेवाएं ऑनलाइन उपलब्‍ध हैं। अगर कोई दिक्‍कत होती है तो लोग जोनल ऑफिस में संपर्क कर सकते हैं।
    • दिल्‍ली जल बोर्ड के कैश काउंटर खुल जाएंगे। मीटर रीडर्स फील्‍ड विजिट करेंगे।
  4. अनलॉक में किन बातों का रखें ध्यान
    • हर किसी की कोशिश होनी चाहिए कि उनकी वजह से किसी दूसरे को संक्रमण न हो।
    • जरूरत होने पर घर से बाहर निकलें। निकलते वक्त डबल मास्क पहनना न भूलें।
    • पिछली बार की तरह छूट मिलते ही बाहर घूमने ने निकलें। मॉल-बाजारों में भीड़ न लगाएं।
    • पिछली गलती से सीख लें और इस बार उस तरह की लापरवाही नहीं करें।
    • शारीरिक दूरी का पालन करें। अगर कोई पालन नहीं करें तो उन्हें टोकें, बात करें।
    • दुकानदारों और आम लोगों को भी अपने अपने स्तर पर पहल की जरूरत है।
    • अगर ऐसा नहीं करेंगे तो संक्रमण फिर बढ़ेगा, दुकानें फिर बंद होगी, आपका नुकसान फिर होगा।
    • अपनी आदतें बदलें। ऐसा न करें कि पुलिस या सरकार सख्ती करेगी तभी मास्क पहनेंगे।
    • गंदा मास्क न पहनें, इससे खुद को भी नुकसान है।
  5. ट्रैफिक पुलिस ने क्‍या व्‍यवस्‍था की है?आज से राजधानी की सड़कों पर हेवी ट्रैफिक वाली स्थिति देखने को मिल सकती है। इसे देखते हुए दिल्ली ट्रैफिक पुलिस भी अलर्ट है। आज से सभी प्रमुख सड़कों और चौराहों पर ट्रैफिक पुलिसकर्मी पहले की तरह एक्शन में नजर आएंगे। ट्रैफिक पुलिस के स्पेशल कमिश्नर ताज हसन ने बताया कि सुनिश्चित किया जाएगा कि कहीं पर भी ज्यादा ट्रैफिक में रुकावट ना हो। लॉकडाउन के दौरान जिन क्रॉसिंग्स को सिग्नल फ्री कर दिया गया था, वहां ट्रैफिक सिग्नल्स पहले की तरह काम करने लगेंगे। लॉकडाउन के दौरान ट्रैफिक पुलिस फिजिकल तरीके से ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन करने वालों के चालान नहीं काट रही थी। केवल कैमरों के जरिए ही चालान काटे जा रहे थे, लेकिन अब ट्रैफिक पुलिस नियमों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ ऑन स्पॉट एक्शन शुरू करेगी। लॉकडाउन के दौरान कई जगहों पर लोकल पुलिस ने सड़कों पर चेकिंग के लिए पिकेट्स लगा रखे थे। अगर उनकी वजह से ट्रैफिक ज्यादा प्रभावित होता है, तो जिला पुलिस से अनुरोध करके बैरिकेड्स को हटाने के लिए कहा जाएगा।
  6. दिल्‍ली मेट्रो में इन बातों का रखें ध्यान
    • मेट्रो परिसर में मास्क पहनना अनिवार्य होगा।
    • हैंड सैनिटाइजेशन व थर्मल स्कैनिंग के बाद स्टेशन पर प्रवेश मिलेगा।
    • लिफ्ट में दो या तीन लोगों से ज्यादा नहीं जा सकेंगे।
    • एस्केलेटर का उपयोग करते समय दो लोगों के बीच एक सीढ़ी रहेगी खाली।
    • स्टेशन में प्रवेश करने को आरोग्य सेतु ऐप डाउनलोड करने पर रहेगा जोर।
    • ट्रेन से पहले यात्रियों को उतरने दिया जाएगा।
    • ट्रेन में दो यात्रियों के बीच एक सीट रखी जाएगी खाली।
  7. मेट्रो और बस का सफर आसान नहीं, टाइम लेकर निकलें
    • पब्लिक ट्रांसपोर्ट से सफर करने वालों को खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है।
    • डीएमआरसी ने घोषणा की है कि सोमवार और मंगलवार को मेट्रो की आधी ट्रेनों को ही सर्विस में उतारा जाएगा।
    • ट्रेनों में किसी को खड़े होकर यात्रा करने की अनुमति नहीं होगी।
    • दिन की पहली और आखिरी ट्रेन के शेड्यूल में कोई बदलाव नहीं किया गया है, लेकिन ट्रेनों की संख्या कम रहने से फ्रीक्वेंसी थोड़ी कम रहेगी।
    • यात्रियों को अलग-अलग लाइनों पर 5 मिनट से लेकर 15 मिनट तक के अंतराल पर ट्रेनें मिलेंगी।
    • डीटीसी और क्लस्टर स्कीम की बसों में भी आधी सीटों पर ही और केवल बैठकर ही यात्रा करने की अनुमति है।
    • डीटीसी अधिकारियों का कहना है कि सोमवार से करीब 90 प्रतिशत बसें अपने रूटों पर निकलेंगी और उनकी फ्रीक्वेंसी भी ज्यादा रहेगी, ताकि लोगों को ज्यादा दिक्कत ना हो।
    • दिल्ली में डीटीसी और क्लस्टर स्कीम की कुल मिलकर करीब 6700 बसें हैं। सोमवार को 5000 से ज्यादा बसें सड़कों पर उतरेंगी।
  8. डॉक्‍टर्स की यह सलाह जरूर मानिएडॉक्टरों का कहना है कि जो गलती हमने पहले पीक के बाद की, वह दोबारा न करें। लोगों को सोचना होगा कि हमारी वजह से किसी को संक्रमण नहीं हो। अगर अगले छह महीने तक हमने सही से कोविड नियमों का पालन कर लिया तो हम तीसरे पीक को टाल सकते हैं। एम्स के कोविड एक्सपर्ट डॉक्टर नीरज निश्चल ने कहा कि आम लोगों को समझना होगा कि सबसे पहले अपनी जिंदगी है और फिर रोजगार है। जिंदगी बचेगी तभी रोजगार होगा इसलिए संक्रमण को रोकने के लिए हर स्तर पर प्रयास की जरूरत है। मैक्स के कोविड एक्सपर्ट रोमेल टिक्कू ने कहा कि मास्क पहननना जरूरी है। सरकार दावा कर रही है कि अगले छह महीने में 100 करोड़ लोगों का वैक्सीनेशन हो जाएगा। ऐसा हो गया कि थर्ड वेव को रोका जा सकता है। एक्सपर्ट का कहना है कि अगर कोई नियम नहीं मान रहा है तो उसे टोकें और बात करें। बिना वजह बाहर नहीं निकलें। सभी नियमों को उसी तरह मानते रहें, जैसे अब तक मानते आए हैं।

Related Articles

Back to top button
close button