Metro

FB लाइव कर स्यूसाइड करने की कोशिश, पुलिस की मुस्तैदी ने बचाई कारोबारी की जान

नई दिल्ली: स्पेशल सेल साइबर क्राइम के एक एसीपी, इंस्पेक्टर और पालम गांव थाना पुलिस की समझदारी से गुरुवार आधी रात को फेसबुक लाइव कर स्यूसाइड की कोशिश कर रहे एक कारोबारी को बचा लिया गया। अगर कुछ वक्त की देरी हो जाती तो शायद इनकी जान जा सकती थी। उन्होंने अपनी हाथ की नस काट ली थी, लेकिन पुलिस अफसरों की ओर से समय रहते पालम गांव थाना पुलिस को सूचना दी गई, जिससे उस शख्स की जान बच गई।

पुलिस ने बताया कि मामला गुरुवार रात करीब 1:30 बजे का है। जब स्पेशल सेल के साइबर सेल में तैनात एसीपी आदित्य गौतम और इंस्पेक्टर मनोज कुमार सोशल मीडिया पर किसी मामले में ठगों को तलाश रहे थे। उसी दौरान उन्हें पता लगा कि कोई शख्स फेसबुक लाइव कर स्यूसाइड की कोशिश कर रहा है। किसी तरह से पुलिस अफसरों ने स्यूसाइड की कोशिश करने वाले शख्स का मोबाइल नंबर निकाला, लेकिन वह स्विच ऑफ मिला। आधी रात के वक्त उस शख्स का कोई एड्रेस भी नहीं पता था। लेकिन मामला गंभीर होने के चलते अफसरों ने किसी तरह एड्रेस ढूंढ निकाला। एड्रेस पालम गांव थाना इलाके का मिला। समस्या यह थी कि जब तक यह अफसर अपने ऑफिस से उस पॉइंट तक पहुंचते, तब तक काफी देर हो जाती। लिहाजा मामले को पालम गांव थाने के एसएचओ पारस नाथ वर्मा को बताया गया।

एसएचओ पारस नाथ ने तुरंत एसआई अमित और बीट स्टाफ सिपाही अभिषेक को तुरंत मौके पर भेजा। एड्रेस द्वारका सेक्टर-7 इलाके का था। जो पालम गांव थाना इलाके में आता था। मौके पर पहुंचे पुलिसवालों ने पता लगाया कि जो शख्स स्यूसाइड की कोशिश कर रहा है, उसका नाम हीरा है। वह हलवाई का काम करते हैं। उन्होंने अपने एक हाथ की नस काट ली थी। वह पिछले कुछ समय से काफी डिप्रेशन में चल रहे थे। उनके हाथ से बहुत खून बह चुका था। गंभीर हालत में उन्हें पास के एक अस्पताल ले जाया गया। डॉक्टर ने उन्हें किसी बड़े अस्पताल ले जाने की सलाह दी। इसके बाद पुलिस उन्हें एम्स ट्रॉमा सेंटर ले गई। जहां उनका इलाज चल रहा है। पुलिस ने बताया कि उनकी हालत अब खतरे से बाहर है। पुलिस ने बताया कि 40 साल के हीरा के दो छोटे बच्चे हैं।

Related Articles

Back to top button
close button