Metro

उत्तर प्रदेश के जिला अस्पतालों में सर्जरी के साथ ही स्वास्थ्य केंद्रों में OPD भी शुरू

लखनऊ
उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण में राहत के साथ प्रदेश सरकार ने जिला अस्पताल और स्वास्थ्य केंद्रों में शुक्रवार से ओपीडी खोलने की आदेश दिए हैं। 1 अप्रैल से सरकारी अस्पतालों में ओपीडी बंद चल रही थी। ओपीडी शुरू होने से नॉन कोविड मरीजों की बीमारी का भी इलाज हो सकेगा। प्रदेश सरकार की अनुमति के बाद स्वास्थ्य विभाग ने जिला एमएमजी अस्पताल, महिला अस्पताल, सभी सामुदायिक और प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों पर बंद ओपीडी को शुरू करने को कहा है। अफसरों का कहना है कि ओपीडी में कोविड प्रोटोकॉल का पूरा पालन किया जाएगा।

प्रदेश के सरकारी अस्पतालों में करीब डेढ़ महीने बाद शुक्रवार से कुछ चुनिंदा विभागों की ओपीडी शुरू होगी। कोरोना संक्रमण बढ़ने के बाद अस्पतालों की ओपीडी बंद कर दी गई थी। अब केस कम होने के बाद अस्पतालों में सुबह आठ से दोपहर दो बजे तक ओपीडी चलेगी। इस दौरान कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए मरीज देखे जाएंगे। इसके साथ सामान्य ऑपरेशन भी होंगे।

राजधानी लखनऊ के अस्पतालों का हाल

बलरामपुर अस्पताल
ईएनटी, नेत्र रोग और सर्जरी विभाग की ओपीडी शुरू होगी। जुकाम-बुखार वाले मरीजों को फीवर क्लीनिक में इलाज मिलेगा। अस्पताल के सीएमएस डॉ. आरके गुप्ता ने बताया कि बाकी विभागों की ओपीडी अभी नहीं शुरू की जाएगी। वहीं, ऑपरेशन से पहले कोरोना जांच जरूरी होगी।

सिविल अस्पताल
शुरुआत में मेडिसिन, नेत्र रोग, ईएनटी, सर्जरी, हड्डी रोग, एंटी रैबीज के मरीज देखे जाएंगे। निदेशक डॉ. सुभाष एस सुंदरियाल ने बताया कि बुखार की जांच के बाद ही मरीज देखे जाएंगे। इमरजेंसी में आने वाले मरीजों के ऑपरेशन भी होंगे।

लोकबंधु अस्पताल
पोस्ट कोविड ओपीडी के साथ ईएनटी और नेत्र रोग विभाग की ओपीडी पहले से चल रही है। शुक्रवार से सर्जरी की ओपीडी चालू होगी। चिकित्सा अधीक्षक डॉ. अजय शंकर त्रिपाठी ने बताया कि जल्द ही ऑपरेशन भी शुरू किए जाएंगे।

भाऊराव देवरस अस्पताल
नेत्र रोग विभाग, ईएनटी और सर्जरी विभाग की ओपीडी चालू होगी। चिकित्सा अधीक्षक डॉ. मनीष ने बताया कि इसकी तैयारी पूरी कर ली गई है।

केजीएमयू
कैंसर, दिल, स्त्री रोग, बाल रोग, इंडोक्राइन और फीवर क्लीनिक पहले से चल रही है। प्रवक्ता डॉक्टर सुधीर सिंह ने बताया कि आदेश मिलने के बाद दूसरे विभागों की ओपीडी भी शुरू की जाएगी।

Related Articles

Back to top button