यहाँ और भी जानकारी है। 
Metro

CPC के 100 सालः चीनी दूतावास जाने की कोशिश कर रहे कई तिब्बती हिरासत में

विशेष संवाददाता, नई दिल्ली
चीन की सत्ताधारी चाइनीज कम्यूनिस्ट पार्टी (CCP) की 100वीं वर्षगांठ के अवसर पर तिब्बत की आजादी का मुद्दा उठाते हुए गुरुवार को भारत में रह रहे निर्वासित तिब्बती युवाओं ने चाणक्यपुरी इलाके में स्थित चीनी दूतावास के पास विरोध प्रदर्शन किया। हालांकि, प्रदर्शन की आशंका को देखते हुए इलाके में पहले से ही पुलिस का बंदोबस्त था। पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को दूतावास के नजदीक नहीं जाने दिया। जैसे ही ये लोग हाथों में पोस्टर-बैनर और झंडे आदि लेकर वहां पहुंचे, वैसे ही पुलिसवालों ने उन्हें पकड़ पकड़कर बसों में बैठाना शुरू कर दिया और उन्हें हिरासत में लेकर थाने भेज दिया। प्रदर्शनकारियों को पकड़ने में पुलिस को खासी मशक्कत जरूर करनी पड़ी। प्रदर्शनकारी आस-पास की सड़कों से अचानक दौड़कर आ रहे थे और किसी तरह दूतावास के नजदीक जाने की कोशिश कर रहे थे। ऐसे में पुलिसवालों को भी उनका पीछा करके उन्हें दौड़-दौड़ कर पकड़ना पड़ा।

नई दिल्ली के डीसीपी दीपक कुमार यादव ने बताया कि गुरुवार सुबह 11 बजे के करीब तिब्बतन यूथ कांग्रेस के कुछ मेंबर विरोध प्रदर्शन करने के लिए कौटिल्य मार्ग के गोल चक्कर के पास पहुंचे थे, जिसके ठीक बगल में शांति पथ और न्याय मार्ग के बीच चीनी दूतावास स्थित है। ये लोग वहीं पर जाने की कोशिश कर रहे थे, लेकिन पुलिस ने उन्हें गोल चक्कर के पास ही रोक लिया और वहां से वापस जाने को कहा। पहले ये लोग कुछ दूर चले गए और नारेबाजी करते रहे, लेकिन थोड़ी देर बाद फिर से दौड़ते हुए दूतावास की तरफ जाने की कोशिश करने लगे। पुलिस ने सभी को एक बार फिर वहां से चले जाने की चेतावनी दी, लेकिन इसके बाद भी जब प्रदर्शनकारी नहीं माने, तो पुलिस को उन्हें हिरासत में लेना पड़ा।

डीसीपी ने बताया कि पुलिस ने चीनी दूतावास के पास इकट्ठा हुए कुल 12 प्रदर्शनकारियों को हिरासत में लिया था, जिनमें 2 महिलाएं भी शामिल थीं। इन सभी को बसों में बैठाकर मंदिर मार्ग थाने भेज दिया गया, जहां उनके खिलाफ आगे की कानूनी कार्रवाई की गई।

Related Articles

Back to top button