Hamar Chhattisgarhindia

पूर्ण भराव से 8.22 मीटर कम हो गया कोरबा बांगो डैम का पानी

ब्यूरो चीफ :-विपुल मिश्रा
बांगो डैम का पानी अपने पूर्ण भराव लेबल 359.66 से 8.22 मीटर काम हो गया है। यह कमी पिछले 10 माह के भीतर आई है। वर्तमान में डैम में 351.44 मीटर पानी शेष है। बीते वर्ष की अपेक्षा 4.20 मीटर लेबल पानी अधिक खर्च हुए है। लाक डाउन के दौरान रबी फसल और तालाबों में जल भराव के लिए पानी छोड़ने के कारण जल स्तर में कमी आई है।

बीते वर्ष जून माह की शुरुआत में डैम का जल स्तर 355.64 मीटर था। वर्तमान में 351.44 मीटर है। लॉक डाउन के चलते इस वर्ष रबी फसल के दौरान किसानों ने गेहूं, दलहन अथवा धान की अपेक्षा सब्जी के फसल अधिक ली है। अन्य फसलों की अपेक्षा सब्जी शीघ्र तैयार और नकद फसल होने से किसानो के लिए आर्थिक तंगी के दौर में बेहतर विकल्प रहा।

बांगों परियोजना के मुख्य कार्यपालन अधिकारी केशव कुमार की माने तो अभी डैम में पर्याप्त पानी है और जून माह में मानसून यदि देरी से आई तो किसानों को पानी की कमी नहीं होगी। किसानों ने खरीफ फसल की तैयार शुरु कर दी है। अभी पानी की आवश्यकता नहीं है, लिहाजा बराज के दाएं व बाएं तट नहर से जलापूर्ति बंद कर दी गई है। माना जराहा है कि इस वर्ष मानसून 15 जून से पहले आ जाएगी। डैम के इस वर्ष भी पूर्ण भराव होने की संभावना है

गेट की 11 साल बाद भी नहीं हुई पुताई

बांगों डैम में लगे गेट की 11 साल बाद भी पुताई नहीं हुई है। विभागीय अधिकारियों की माने तो प्रत्येक पांच वर्ष के अंतराल में सुरक्षा की दृष्टि से इसमें पैंट लगाया जाता है। जल संसाधन मुख्यालय से अनुमति में मुहर नहीं लगने से काम पूरा नहीं हुआ है।

तीन घंटे संचालित हो रहा हाइडल प्लांट
बांगों में पानी से बिजली बनाने के लिए हाइडल प्लांट का तीन घंटे संचालन किया जा रहा। इससे प्रतिदिन 0.90 मिलियन घन मीटर पानी खर्च हो रहा है। आगामी खरीफ फसल में किसानों को पानी की सुविधा देने के लिए हाइडल प्लांट संचालन की समय सीमा कम की गई है।

Related Articles

Back to top button
close button