Hamar Chhattisgarhindia

बिलासपुर : लौटेगी अरपा की खूबसूरती, अरपा के सौंदर्यीकरण के साथ बेहतरीन सड़क का होगा निर्माण

बिलासपुर, 1 जून 2021 : कलेक्टर डॉ. सारांश मित्तर ने आज शहर में चल रहे निर्माण कार्यों का जायजा लिया। उन्होंने सभी कार्य गुणवत्ता के साथ तय समय में पूरा करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने अरपा नदी के दोनों ओर सड़क निर्माण एवं सौंदर्यीकरण योजना, न्यूनतम दर पर जांच की सुविधा के लिए बनाए जा रहे डायग्नोस्टिक सेंटर एवं तिफरा फ्लाई ओवर का सघन निरीक्षण किया।

कलेक्टर ने सबसे पहले बिलासपुर स्मार्ट सिटी योजना के अंतर्गत 93 करोड़ 70 लाख रूपए की लागत से अरपा नदी के दोनों ओर सड़क निर्माण एवं सौंदर्यीकरण योजना के कार्य को देखा। इस योजना के अंतर्गत नदी के दोनों किनारों पर इंदिरा सेतु से शनिचरी रपटा तक 1.80 किलोमीटर की फोरलेन आधुनिक सड़क बनाई जाएगी।

कलेक्टर ने निर्माण कार्य का बारीकी से निरीक्षण किया। नगर निगम के अधिकारियों ने कलेक्टर को बताया कि वर्तमान में नदी से सिल्ट निकालने का कार्य किया जा रहा है। अभी तक लगभग दो हजार क्यूबिक मीटर सिल्ट निकाला जा चुका है। कलेक्टर ने कहा कि किसी भी स्थिति में सड़क की चौड़ाई कम न हो।

उन्होंने एलाइनमेंट ठीक से करने के निर्देश दिए। अरपा के उत्थान के साथ-साथ तट संवर्धन का कार्य भी इस प्रोजेक्ट में शामिल है जिसमें नदी के दोनों ओर तट पर पीचिंग कार्य एवं तट से लगी भूमि पर खूबसूरत लैंड स्कैपिंग कर उद्यान विकसित करने की योजना है। कलेक्टर ने कहा कि इस कार्य की गुणवत्ता में किसी भी प्रकार का समझौता नहीं किया जाएगा। उन्होंने कार्य को समय सीमा में पूर्ण करने के निर्देश दिए।

डायग्नोस्टिक सेंटर के लिए स्थल निरीक्षण –

कलेक्टर ने न्यूनतम दर पर नागरिकों को जांच की सुविधा उपलब्ध करानेे के लिए बनाए जा रहे डायग्नोस्टिक सेंटर का स्थल निरीक्षण किया। यह डायग्नोस्टिक सेंटर पं. श्यामलाल चतुर्वेदी स्मार्ट सड़क में बनाया जा रहा है। इसका संचालन नगर निगम द्वारा नियुक्त एजेंसी द्वारा किया जाएगा। तीन माह में शहर के नागरिकों को यहां जांच की सुविधा मिलेगी। इस सेंटर में सीटी स्कैन, एक्स-रे, एमआरआई जैसी जांच कम दरों पर हो सकेगी। कलेक्टर ने सेंटर के लिए प्रस्तावित भवन का निरीक्षण कर आवश्यक दिशा निर्देश अधिकारियों को दिए।

तिफरा फ्लाईओवर का जायजा –

कलेक्टर ने तिफरा फ्लाईओवर का निरीक्षण किया। धीमी निर्माण गति पर नाराजगी जाहिर करते हुए संबंधित ठेकेदार पर नियमानुसार जुर्माना लगाने के निर्देश अधिकारियों को दिए। मौके पर उपस्थित अधिकारियों ने बताया कि रिटेनिंग वॉल में एक लेयर सहित कॉम्पेक्शन का कार्य शेष है। कलेक्टर ने निर्देश दिए कि यह कार्य जल्द पूरा करें।

निरीक्षण के दौरान नगर निगम आयुक्त अजय त्रिपाठी, एसडीएम देवेन्द्र पटेल सहित अन्य विभागीय अधिकारी मौजूद थे।

Related Articles

Back to top button
close button