automobile

क्या सड़क दुर्घटना में आपकी 'जान बचा पाएगी' देश की सबसे सस्ती 7-सीटर कार?

नई दिल्ली।
भारत में बनी (Made in India) (Renault Triber) सड़क हादसे के दौरान आपके लिए कितनी सुरक्षित है? यह सवाल इसलिए जरूरी है, क्योंकि हाल ही में ने सुरक्षा मानकों को लेकर Triber को रेटिंग दी है। बता दें कि देश की सबसे सस्ती 7-सीटर कार है। भारतीय बाजार में इसकी शुरुआती कीमत 5.30 लाख रुपये है, जो इसके टॉप एंड वेरिएंट पर 7.82 लाख रुपये तक जाती है।

सड़क हादसे में कितनी सुरक्षित है Renault Triber?

Global NCAP ने Renault Triber को एडल्ट प्रोटेक्शन के लिए 5 में से 4 स्टार दिए हैं, जहां टेस्टिंग के दौरान इसे 17 में से 11.62 अंक मिले। वहीं, चाइल्ड प्रोटेक्शन के लिए इस 7-सीटर कार को 5 में से 3 स्टार रेटिंग मिली। चाइल्ड प्रोटेक्शन के लिए इसे 49 में से 27 अंक मिले।

नोट- एडल्ट प्रोटेक्शन का मतलब हादसे के दौरान यह कार वयस्कों के लिए कितनी सुरक्षित है। वहीं, चाइल्ड प्रोटेक्शन का मतलब हादसे के दौरान यह कार बच्चों के लिए कितनी सुरक्षित है।


कैसे हुई टेस्टिंग?

Renault Triber का क्रैश टेस्ट जर्मनी के लैंड्सबर्ग में ADAC क्रैश टेस्ट लैब में आयोजित किया गया था, जो ग्लोबल NCAP प्रोटोकॉल के अनुरूप था। आसान भाषा में समझें तो इस कार को 64 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से दुर्घटनाग्रस्त किया गया और देखा गया कि इसमें बैठे यात्र कितने सुरक्षित रहेंगे। इस टेस्ट में पाया गया कि हादसे के दौरान इसमें बैठे चालक और यात्री के सिर और गर्दन को अच्छी सुरक्षा मिलेगी। जबकि यात्री के सीने और घुटनों के लिए पर्याप्त सुरक्षा थी।

क्या है Global NCAP ?

यह एक ग्लोबल प्रोग्राम है, जहां अलग-अलग कंपनियों की गाड़ियों की क्रैश टेस्टिंग की जाती है। आसान भाषा में समझें, तो देखा जाता है कि अगर सड़क दुर्घटना होती है, तो कई भी कार इसमें बैठे यात्रा और ड्राइवर की कितनी सुरक्षा कर पाती है। इसके लिए कार को एक तय रफ्तार से क्रैश कराया जाता है। इसके बाद समीक्षा की जाती है कि अगर इसमें अंदर कोई वयस्क या बच्चा होता, तो यह कार उसे हादसे से कितना बचा पाती। वह कार सबसे सुरक्षित मानी जाती है, जिस टेस्ट में 5 रेटिंग मिलती है।

Related Articles

Back to top button