Hamar Chhattisgarh

हेल्थ एवं वेलनेस सेंटर में होगी बहरेपन की जांच

बेमेतरा, 18 फरवरी 2021। राष्ट्रीय बधिरता रोकथाम एवं नियंत्रण कार्यक्रम के अंतर्गत जिले के हेल्थ एंड वेलनेस सेन्टर में कार्यरत कम्युनिटी हेल्थ ऑफिसरको एक दिवसीय प्रशिक्षण दिया गया। हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर के 26 सीएचओ का प्रशिक्षण सीएमएचओ कार्यालय स्थित हॉल में आयोजित किया गया। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ एस के शर्मा के निर्देशानुसार प्रशिक्षण कार्यक्रम बलौदाबाजार जिला अस्पताल की ईएनटी स्पेशलिस्ट डॉ नेहा गंगेश्वरी के द्वारा दिया गया।

प्रशिक्षण देते हुए ईएनटी स्पेशलिस्ट डॉ नेहा गंगेश्वरी ने बताया, स्वास्थ्य विभाग द्वारा चलायाजा रहाबधिरता रोकथाम कार्यक्रम आने वाले समय में सभी के लिए बहुत ही उपयोगी साबित होगा। इसके जरिये जन्म के समय में ही कुछ सावधानी बरतने से बहुत हद तक इस तरह की दिव्यांगता से बचा जा सकता है”।

प्रशिक्षण में मुख्य रूप से हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर में आने वाले मरीजों को बधिरता कार्यक्रम के प्रति जागरूकता लाने के दृष्टि कोण एवं कान की देखभाल एवं बचाव के लिए आवश्यक उपायो को लेकर जानकारी दी गयी । डॉ नेहा गंगेश्वरी ने बताया, “जन्म के समय ही बच्चों में कान सुनाई नहीं देने जैसे लक्षणों को देखते हुए उनका तुरंत समुचित इलाज किये जाने से बधिरता और गूंगेपन जैसी समस्याओं को जल्द से जल्द ठीक किया जा सकता है”।


ऑडियोलॉजिस्ट गुलनाज खान ने बताया, “बच्चों के तुतलाने पर स्पीच थेरपी दिया जाता हैं। बुजुर्गों में उम्र बढ़ने के साथ हियरिंग लॉस होने पर मशीन वितरण किया जाता है। 6 साल से कम उम्र के बच्चों को सुनाई नही देने पर सर्जरी के लिए मेकाहारा में रेफर किया जाता है। प्रशिक्षण में सीएचओ को बताया गया कि सुनाई नहीं देने की समस्या वाले मरीजों को हेल्थ एवं वेलनेससेंटर से चिन्हांकित कर जिला अस्पताल रेफर किया जाए। उन्होंने बताया आगामी 3 से 10 मार्च तक विश्व कर्ण सप्ताह मनाया जाएगा। उक्त प्रशिक्षण में नोडल अधिकारी डॉ बुद्धेश्वर वर्मा, जिला कार्यक्रम प्रबंधक अनुपमा तिवारी, ऑडियोलॉजिस्ट गुलनाज खान व जिला प्रशिक्षण अधिकारी सागर शर्मा उपस्थित रहें।

Live Share Market

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Live Updates COVID-19 CASES