व्यापार विहार में हुए 10 लाख की उठाईगिरी की गुत्थी पुलिस ने सुलझाई

व्यापार विहार में हुए 10 लाख की उठाईगिरी की गुत्थी पुलिस ने सुलझाई


बिलासपुर–बीते 19 अक्टूबर 2020 को व्यापार विहार में हुए 10 लाख की उठाईगिरी की गुत्थी को पुलिस ने सुलझा ली है,बताया जा रहा है कि इस घटना को राजगढ़ मध्यप्रदेश के कड़िया सांसी गांव के सांसी गैंग द्वारा दिया गया था अंजाम दिया गया था,देखा जाए तो इस पूरे मामले में आरोपी तो पुलिस के हाथ नही लगा लेकिन चोरी गए 10 लाख रुपयों में से ₹5 लाख नगद जप्त किये गए हैं,यह सुराग पुलिस को सीसीटीवी फुटेज से मिला।

ज्ञात हो कि थाना तारबाहर में प्रार्थी मयंक कुमार अग्रवाल निवासी अग्रसेन मार्ग बाराद्वार द्वारा थाना उपस्थित आकर रिपोर्ट दर्ज कराई कि वह बाराद्वार में थोक किराना व्यापार का काम करता है,दिनांक घटना 19/ 10/ 20 को सुबह वह किराना सामान खरीदने जनशताब्दी एक्सप्रेस से बाराद्वार से 15 लाख रुपए लेकर बिलासपुर आया था जो व्यापार विहार में किराना सामान खरीदी करने गया था। जिसमें से करीब ₹5 लाख रुपये को अन्य व्यापारियों को भुगतान कर दिया था और बाकी रकम लगभग 10 लाख को बैग में लेकर शाम करीब 5:00 बजे ब्रांडेड अगरबत्ती दुकान व्यापार विहार में सामान खरीदने गया था ।उसी दौरान किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा उसके बैग में रखे हुए करीब 10 लाख नगदी रकम को चोरी कर लिया गया ।प्रार्थी की रिपोर्ट पर थाना तार बहार में अज्ञात आरोपी के विरुद्ध चोरी का अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।

विवेचना के दौरान पुलिस कप्तान बिलासपुर प्रशांत अग्रवाल द्वारा प्रकरण की सघन विवेचना कर शीघ्र आरोपियों की पतासाजी करने का निर्देश दिए तथा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर बिलासपुर उमेश कश्यप नगर पुलिस अधीक्षक सिविल लाइन आर एन यादव एवं निरीक्षक प्रदीप आर्य थाना प्रभारी थाना तार बहार घटना के तत्काल बाद घटनास्थल पहुंचकर बारीकी से घटनास्थल का निरीक्षण किए।

घटनास्थल एवं आसपास लगे हुए सीसी कैमरा फुटेज भी देखा गया। जिसमें अज्ञात संदेही का फुटेज दिखाई दे रहा था,फुटेज में दिख रहे संदेहियों की पतासाजी हेतु विशेष टीम बनाकर देश के अन्य राज्यों से भी इस प्रकार की चोरी उठाई गिरी करने वाले गैंग/आरोपियों की पतासाजी की गई ।जिसमें ज्ञात हुआ कि घटनास्थल पर मिले सी सी टीवी कैमरा में दिख रहे एक आरोपी/संदेही का नाम कबीर सांसी निवासी कड़िया सांसी थाना बोडा जिला राजगढ़ है जिस की पतासाजी हेतु पुलिस कप्तान प्रशांत अग्रवाल एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक बिलासपुर उमेश कश्यप द्वारा विवेचना टीम बनाकर कड़िया सांसी राजगढ़ मध्य प्रदेश रवाना किया गया।

उक्त टीम ने स्थानीय पुलिस की मदद लेकर संदेही कबीर सांसी के संबंध में स्थानीय लोगों को फुटेज दिखाकर पतासाजी की,फुटेज को देखकर घटना करने वाले आरोपी का नाम कबीर सांसी होना लोगो ने बताया। पुलिस टीम द्वारा कबीर सांसी के निवास पर स्थानीय पुलिस की मदद से दबिश दी गई किंतु दिगर राज्य से पुलिस आने की सूचना मिल जाने पर आरोपी घर से फरार हो गया। आरोपी के घर की तलाशी लेने पर पुलिस को घटना में चोरी गए रकम में से 5 लाख नकदी जप्त करने में सफलता प्राप्त हुई है ।फरार आरोपी की लगातार पतासाजी की जा रही है।

स्थानीय पुलिस द्वारा आरोपी कबीर सांसी को पूर्व से अन्य मामले में वांटेड होना तथा उनके द्वारा भी तलाश किया जाना बताया गया है,आरोपी कबीर के पकड़े जाने पर बिलासपुर पुलिस को सूचित करने भी कहा गया है। प्रकरण को सुलझाने में सहायक निरीक्षक हेमंत आदित्य , प्रधान आरक्षक भरत राठौर थाना तार बहार आरक्षक विजय पांडे आरक्षक पवन बंजारे एवं थाना सरकंडा के आरक्षक विवेक राय तथा बलवीर सिंह की महत्वपूर्ण भूमिका रही।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Live Updates COVID-19 CASES