Hamar Chhattisgarh

राइड, ट्रेकिंग व प्रशिक्षण के बीच 66 लोगों ने टाइगर रिजर्व में गुजारा दो दिन

बिलासपुर : यूथ हास्टल्स एसोसिएशन आफ इंडिया बिलासपुर(एडहाक) यूनिट व रायपुर यूनिट के 66 सदस्य शिवतराई रिसार्ट के बेस कैंप में एकत्र हुए। इस दौरान अचानकमार टाइगर रिजर्व में राइड करते हुए पक्षियों व शेड्यूल एक व दो के वन्य प्राणियों को नजदीक से देखा। इस दौरान उनके मन में इन वन्य प्राणी व वनस्पति को लेकर जिज्ञासा भी शांत की गई।

दो दिनी यह कार्यक्रम 20 व 21 फरवरी को आयोजित हुआ। पहले दिन राइड का आयोजन हुआ। इस दौरान रात में बेस कैंप में कैंप फायर हुआ। इसके साथ- साथ सांस्कृतिक कार्यक्रम हुआ। जिसमें प्रतिभागियों ने शानदार प्रस्तुति दी। इसके अलावा सभी को एक- दूसरे के बारे में बताया गया। छत्तीसगढ़ की मूल संस्कृति व वनवासियों के रहन- सहन की जानकारी भी दी गई। दूसरे दिन सुबह ट्रेकिंग कराया गया।

घोंघा जलाशय

जिसमें प्रतिभागियों को वनों में उपलब्ध सालों पुराने पेड़ों को दिखाया गया। नए पौधे के विकास व जंगल बचाने से संबंधित जानकारी दी गई। इस दौरान सभी ने जंगल को बचाने का संकल्प भी लिया। इसी दिन दोपहर में भोजन के बाद घोंघा जलाशय में नेवी के सेवानिवृत्त कमांडर संदीप मुरारका एवं कमांडर भक्ति गोखले मुरारका द्वारा पानी में जनहानि से बचाव के उपाय के साथ वाटर स्पोर्ट के बारे में विस्तार से जानकारी दी गई।

कार्यक्रम के दौरान अचानकमार टाइगर रिजर्व के डिप्टी डायरेक्टर सत्यदेव शर्मा ने भी प्रतिभागियों को टाइगर रिजर्व में उपलब्ध वन्य प्राणी व पक्षियों की जानकारी दी। उन्हें बताया गया कि वन क्षेत्र के विकास व स्वच्छ रखने के लिए टाइगर रिजर्व प्रबंधन काफी प्रयास कर रहा है। इसे कायम रखने के लिए हम सभी पर्यटकों से भी अपील करते हैं।

इस अवसर पर प्रतिभागियों को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित भी किया गया। एसोसिएशन की ओर से यूनिट के चेयरमैन संदीप सेठ, संयोजक शैलेष शुक्ला, नेचर क्लब के संयोजक व एनबीए के अध्यक्ष मंसूर खान उपस्थित थे।

Live Share Market

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Live Updates COVID-19 CASES