[prisna-google-website-translator]
Hamar Chhattisgarh

भ्रष्टाचार में लिप्त इंजीनियर पर आखिर कार्यवाही कब,जिला प्रशासन भ्रष्ट इंजीनियर को दे रही पनाह

हिमांशु सिंह ठाकुर:- ब्यूरो रिपोर्ट कवर्धा।

कवर्धा : ग्रामीण यांत्रिकी उपसंभाग पंडरिया के भ्रष्ट इंजीनियर अमृत लाल उरेहा पर आखिर कार जिला प्रशासन इतना मेहरबान किसलिए यह समझ से परे है बहरहाल पंडरिया ग्रामीण यांत्रिकी उपसंभाग के सब इंजीनियर अमृत लाल उरेहा को कौन नही जानता वर्तमान में यह ग्रामीण यांत्रिकी सेवा उपसंभाग के अनुविभागीय अधिकारी के पद पर पदस्थ है

पंडरिया विकासखंड में लगभग 14 वर्ष बीत चुके परंतु शासन व प्रशासन इनकी सुध लेने को भी तैयार नही आखिर अब तक इनपर कार्यवाही क्यों नही हुई पूर्व में अमृत लाल उरेहा द्वारा बनाये गए वर्ष 2012 व 2013 में ग्राम पंचायत बुचीपारा के आश्रित ग्राम दलपी में बाजार सेड निर्माण कार्य में बिना बीम डाले ही सेड का निर्माण कराया गया थाभ्रष्टाचार में लिप्त इंजीनियर पर आखिर कार्यवाही कब,जिला प्रशासन भ्रष्ट इंजीनियर को दे

जिसे पूरा करना था परंतु आज तक बाजार सेड का निर्माण अधूरा है जिसकी अनुमानित लागत राशि 5.00 लाख रुपये है जिसे पूर्व में ग्रामीणों की शिकायत व अखबार में खबर प्रकाशन के दौरान तात्कालिक उच्च अधिकारी रायपुर के द्वारा कार्यपालन अभियंता को निर्देशित कर कार्यवाही करने पत्र लिखा गया था

यह भी पढ़े  :-शासन के मछुआ नीति का होगा शत् प्रतिशत क्रियान्वयन : निषाद

जिसकी सूचना पर तत्काल ही तोड़ कर बीम डाला गया परंतु दूसरी ओर आज भी सेड का निर्माण कार्य अधूरा पड़ा हुआ है जो आज तक नही बन सका वही इसकी जानकारी विभाग के अधिकारी व उच्च अधिकारी तक है वही सूत्रों की माने तो जानकारी के मुताबिक बाजार सेड के निर्माण में भारी अनियमितता बरती गई जहां बाजार सेड निर्माण कार्य के नाम पर मरम्मत के नाम पर अलग 60.000 हजार रुपये का चूना लगाया गया है जिसके बावजूद ऐसे भ्रष्ट इंजीनियर को जिला प्रशासन पनाह दे रही हैभ्रष्टाचार में लिप्त इंजीनियर पर आखिर कार्यवाही कब,जिला प्रशासन भ्रष्ट इंजीनियर को दे रही पनाह

ग्रामीणों द्वारा शिकायत करने के बावजूद भी कार्यवाही नही किया जॉना यह विभाग के उच्च अधिकारी पर सवालिया निशान खड़ा करता है कही विभाग के उच्च अधिकारी इंजीनियर से खानापूर्ति तो नही कर रहे जिसके कारण आज पर्यंत तक बचाने पूरा जोर विभाग के अधिकारी दे रहे है सूत्रों से जानकारी के मुताबिक ग्राम दलपी बाजार सेड निर्माण कार्य मे इजीनियर अमृत लाल उरेहा द्वारा स्वयं ही मूल्यांकन व सत्यापन भी किया गया है जिसके जानकारी के बावजूद भी कार्यवाही नही किया गया..

पंडरिया विधानसभा युवक कांग्रेस के अध्यक्ष स्वतंत्र सिंह द्वारा लगभग तीन बार आवेदन जनपद पंचायत पंडरिया सहित जिला पंचायत व कलेक्टर तक शिकायत किया गया परंतु कार्यवाही अब तक नही की गई है जब हमने इस विषय को लेकर युवक कांग्रेस के अध्यक्ष से चर्चा की तो उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन अगर कार्यवाही नही करती है तो ग्रामीणों के साथ हम सड़क पर उतर कर विरोध प्रदर्शन करने बाध्य होंगे वही जब इस पूरे विषय को लेकर हमारे प्रतिनिधि ने विभाग के अधिकारी से बात किया तो उन्होंने कार्यवाही की बात को लेकर अपना पल्ला झाड़ दिया जिसके बाद हमारे प्रतिनिधि द्वारा जिला पंचायत के अधिकारी से बात की तो उन्होंने कार्यवाही करने का अस्वाशन दिया परंतु कार्यवाही अब तक नही हुई..

यह भी पढ़े  :-Road Accident : हादसों भरा बुधवार,सड़क हादसे में 5 की दर्दनाक मौत 

युवक कांग्रेस पंडरिया विधानसभा अध्यक्ष ने चर्चा कर पूरी जानकारी देते हुए कहा कि जिला प्रशासन जल्द ही ऐसे भ्रष्ट इंजीनियर पर तत्काल कार्यवाही करे वही आवेदन दिए जाने के बावजूद भी कार्यवाही अब तक नही हुई सूत्रों की माने तो जानकारी मिली कि इंजीनियर पर कार्यवाही नही होने की वजह किसी बड़े राजनेता का सर् पर हाथ होने के कारण कार्यवाही से बचते आ रहे है बहरहाल अब देखना यह होगा कि क्या भ्रष्टाचार में लिप्त इंजीनियर पर विभाग के अधिकारी व जिला प्रशासन कार्यवाही कब तक करते है यह तो देखने वाली बात होगी या इसी तरह भ्रष्ट इंजीनियर को जिला प्रशासन पनाह देते रहेगी।

Live Share Market

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Live Updates COVID-19 CASES

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker