बोले अमरजीत भगत – “जोगी परिवार से संपर्क नही है.. वे कांग्रेस आए ना आए.. यह प्रश्न मेरे स्तर से उपर का है..मुझसे सलाह माँगते तो कांग्रेस की काम काम करने की सलाह देता.. पर कोई बात ही नही होती”

बोले अमरजीत भगत – “जोगी परिवार से संपर्क नही है.. वे कांग्रेस आए ना आए.. यह प्रश्न मेरे स्तर से उपर का है..मुझसे सलाह माँगते तो कांग्रेस की काम काम करने की सलाह देता.. पर कोई बात ही नही होती”


मरवाही,30 अक्टूबर 2020। मरवाही उपचुनाव में कांग्रेस के प्रचार के लिए पहुँचे अमरजीत भगत ने कांग्रेस के पक्ष में प्रचार करने के दौरान जीत का दावा किया है। भूपेश बघेल कैबिनेट के मंत्री अमरजीत भगत, उन अजीत जोगी के शिष्य माने जाते है, जो अब स्मृति शेष हैं और जिस वजह से उप चुनाव हो रहा है। स्व.अजीत जोगी के गृह ग्राम जोगीसार की बात हो या फिर मरवाही की, अमरजीत कभी साए की तरह साथ होते थे। यह स्थापित सत्य है कि,किसी भी मौक़े पर मंत्री अमरजीत भगत ने अजीत जोगी के प्रति गुरु भाव का सम्मान नही छुपाया, और यह भी उतना ही स्थापित सत्य है कि, स्व. जोगी का यह शिष्य पूरी निष्ठा से कांग्रेस के साथ है।
शायद इसलिये ही अजीत जोगी के गृह और निर्वाचन क्षेत्र मरवाही में अमरजीत भगत के भाषणों में यह शब्द स्थाई होते हैं –
“मैं यहाँ पहले भी आता रहा हूँ.. लगातार आया हूँ.. कांग्रेस के सदस्य के रुप में.. “
याने कि मंत्री अमरजीत भगत यह स्पष्ट कर देना चाहते हैं कि वे जब स्व. जोगी के रहते हुए उनके साथ आते थे तो कांग्रेस ही वह मूल तत्व था जिसकी पहचान अमरजीत भगत के पास तब भी थी और अब भी है।
NPG से अमरजीत भगत ने कहा
“ कांग्रेस ही मूल तत्व है, कांग्रेस ने ही स्व. अजीत जोगी को सब कुछ दिया, ना सिर्फ़ अजीत जोगी जी को, बल्कि श्रीमती डॉ रेणु जोगी जी को भी और अमित जोगी जी को भी.. मेरी भी पहचान अगर जोगी परिवार से बनी तो केवल इसलिए क्योंकि मैं खुद कांग्रेस में हूं”
मंत्री अमरजीत भगत ने कहा
“ मेरा अब चूँकि कोई संपर्क नही है जोगी परिवार से, इसलिए मैं केवल यह कह सकता हूँ कि यदि मेरी सलाह ली जाती तो मैं यह जरुर कहता कि, कांग्रेस का विरोध नही करना चाहिए.. लेकिन मेरा अब कोई संपर्क नही है”
मंत्री अमरजीत भगत से सवाल हुआ –
“क्या आप यह कहना चाहते है कि जोगी परिवार कांग्रेस प्रवेश कर ले”
मंत्री भगत ने कहा-
“कतई नही, मेरी अपना क्षमता और स्तर है,और यह प्रश्न कि जोगी परिवार क्या करे.. वो कांग्रेस प्रवेश करे ना करे.. या कि कांग्रेस इसे लेकर क्या करे.. यह मेरी क्षमता मेरे स्तर का मसला नही है.. इस पर निर्णय करने वाले मेरे दल में बड़े लोग हैं.. मैं ऐसा ना कुछ कह रहा हूँ और ना ऐसी कोई सोच रखता हूँ”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Live Updates COVID-19 CASES