बाबा का ढाबा को मशहूर करने वाले यूट्यूबर ने की धोखाधड़ी, बाबा पहुंचे थाने…बोले-भाई के अकाउंट में मंगाई चंदे की रकम

बाबा का ढाबा को मशहूर करने वाले यूट्यूबर ने की धोखाधड़ी, बाबा पहुंचे थाने…बोले-भाई के अकाउंट में मंगाई चंदे की रकम


नईदिल्ली 2 अक्टूबर 2020। जिस शख्स की वजह से दक्षिण दिल्ली का ‘बाबा का ढाबा’ देश-दुनिया में चर्चा में आया था, वह खुद गंभीर आरोपों को घेरे में आ गया है। यूट्यूबर गौरव वासन  पर दक्षिण दिल्ली के मालवीय नगर में चर्चित भोजनालय ‘बाबा का ढाबा’ के नाम पर गलत ढंग से फंड जुटाने का आरोप लगा है। इस बाबत ‘बाबा का ढाबा’ के मालिक कांता प्रसाद ने इंस्टाग्राम इनफ्लुएंसर व यूट्यूबर गौरव वासन के खिलाफ धन की हेराफेरी की शिकायत दर्ज कराई है।

उन्होंने यूट्यूबर वासन के सोशल मीडिया अकाउंट पर साझा किए गए वीडियो में अपने संघर्ष के बारे में बात की थी। पुलिस को दी गई अपनी शिकायत में, प्रसाद ने कहा कि वासन ने उनका वीडियो शूट किया और इसे ऑनलाइन पोस्ट किया और सोशल मीडिया पर जनता को उन्हें पैसे देने की अपील की।

उन्होंने आरोप लगाया कि वासन ने जानबूझकर केवल अपने और अपने परिवार/दोस्तों के बैंक विवरण और मोबाइल नंबर दानदाताओं के साथ साझा किए और शिकायतकर्ता को कोई भी जानकारी प्रदान किए बिना विभिन्न प्रकार के भुगतानों के माध्यम से दान की भारी राशि एकत्र की।

बाबा का ढाबा के मालिक कांता प्रसाद के यहां ग्राहकों की संख्या धीरे-धीरे कम होती जा रही है। वीडियो वायरल होने के शुरुआती दिनों में रोजाना 10 से 12 हजार रुपये की बिक्री हो रही थी। जो अब घटकर तीन से पांच हजार रुपये रह गई है। नवरात्र से पहले तक वह सारे खर्चे निकालकर रोज करीब तीन हजार रुपये कमा लेते थे। अब उनकी रोजाना की कमाई 1200-1500 रुपये रह गई है।

वहीं इस पूरे मामले में यूट्यूबर गौरव वासन ने भी अपनी बात समाने रखी है. गौरव का कहना है कि बाबा उन पर झूठा आरोप लगा रहे है. गौरव ने बताया 8 तारीख़ को 75 हज़ार रूपये मैं खुद बाबा के साथ उनके बैंक अकाउंट में जमा करने उनके साथ बैंक गया था. उसके बाद जो पैसे मेरे अकाउंट में आये थे वो भी मैंने बाबा को दे दिये थे. जिसमें 2 लाख 33 हज़ार का चेक, 1 लाख की NEFT और 45 हज़ार paytm का पैसा शामिल है. बाबा की मैंने मदद करने की कोशिश की है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Live Updates COVID-19 CASES