दोरनापाल के मोहित ने बढ़ाया सुकमा जिले का मान ,सबसे अधिक वर्चुअल कक्षाओं में शामिल होने वाला छात्र,मिला सम्मान

दोरनापाल के मोहित ने बढ़ाया सुकमा जिले का मान ,सबसे अधिक वर्चुअल कक्षाओं में शामिल होने वाला छात्र,मिला सम्मान

[ad_1]

सुकमा।पढ़ई तुंहर दुआर योजना के अंतर्गत हमारे नायक में जगह बना कर जिले के कोन्टा विकासखंड के दोरनापाल के छात्र मोहित खरे ने जिले का मान बढ़ाया है। कोरोना महामारी के कारण स्कूल बंद है, ऐसे समय मे बच्चों को पढ़ाई से जोड़े रखने के लिए स्कूल शिक्षा विभाग पढ़ई तुंहर दुआर योजना ले कर आई। इस योजना के माध्यम से बच्चे वर्चुअल क्लास से सुरक्षित अपने घरों में रहते हुए पढ़ाई से जुड़े हुए है। इस योजना के अंतर्गत स्कूल शिक्षा विभाग ने अपने अधिकारिक वेब पेज पर हमारे नायक नाम से श्रृंखला प्रारंभ की है। हमारे नायक में पूरे राज्य से उन शिक्षक और छात्रों को जगह मिलती है जिन्होंने पढ़ई तुंहर दुआर योजना में उल्लेखनीय उपलब्धि हासिल किया हो।

इसके तहत कोन्टा ब्लॉक के शासकीय उच्चतम माध्यमिक शाला दोरनापाल के छात्र मोहित खरे ने पूरे जिले में सबसे ज्यादा ऑनलाइन क्लास अटेंड करने वाले विद्यार्थी के रूप में हमारे नायक में जगह बनाने में कामयाब रहे। मोहित की इस कामयाबी में शिक्षकों सहित उनके पिता श्री अंजोर सिंह खरे और माता श्रीमती दामिनी खरे का महत्वपूर्ण योगदान है। मोहित ने बताया कि पढ़ई तुंहर दुआर के ऑनलाइन क्लास से उन्हें बहुत लाभ हुआ और उसे पूरे राज्य के शिक्षकों से सीखने का मौका मिला है।

उद्योग एवं वाणिज्य(आबकारी) मंत्री कवासी लखमा ने छात्र मोहित की उज्ज्वल भविष्य की कामना करते हुये कहा कि सुदूर वनांचल के छात्र का चयन राज्य स्तर पर ”हमारे नायक” के रूप में होने पर निश्चित रूप से सुकमा जिले का मान पूरे राज्य में बढ़ा है। आज जब सारा विश्व कोविड-19 महामारी से जूझ रहा है और लगभग सभी प्रकार की शिक्षण संस्थाओं में पारम्परिक शिक्षण गतिविधियां पर विराम लगा हुआ है, इन विषम परिस्थितियों से छत्तीसगढ़ शासन का वैकल्पिक ऑनलाइन शिक्षण योजना ”पढ़ई तुंहर दुआर” नित नयी इबारत लिख रहा है।

शासन की इस योजना से राज्य के विभिन्न क्षेत्रों के बच्चें लाभान्वित होकर अपनी पढ़ाई को जारी रख रहे हैं वहीं कुछ छात्र अपनी उल्लेखनीय सहभागिता द्वारा अन्य विद्यार्थियों को प्रेरित भी कर रहे हैं।

चुनिंदा विषय विशेषज्ञों से पढ़ाई करने का विकल्प
पढ़ाई के प्रति स्वाभाविक ललक व इसमे निरन्तरता रखने की चाहत के फलस्वरूप जिले में सबसे अधिक 232 वर्चुअल कक्षा में शामिल होने वाले छात्र मोहित ने बताया कि वे प्रतिदिन 5 से 6 ऑनलाइन कक्षाओं में शामिल होते हैं और उन्हें इन कक्षाओं में समझाए गए पाठ बड़े अच्छे से समझ मे आ जाता है। उन्हें सीजीस्कूलडाॅटइन के माध्यम से पढ़ाई में सबसे अच्छी बात यह लगी कि यह छात्रों को राज्यभर के चुनिंदा विषय विशेषज्ञों से पढ़ाई करने का विकल्प प्रदान करता है। उन्होंने बताया कि अपने विषय विशेषज्ञ शिक्षकों द्वारा बनाए गए व्हाट्सएप समूह में गृहकार्यों को तत्काल पूर्ण का भेजते हैं व शंकाओं का समाधान प्राप्त करते हैं। मोहित एक प्रतिभावान छात्र है और भविष्य में भारतीय प्रशासनिक सेवा अधिकारी बनना चाहते हैं और शासन की इस महत्वाकांक्षी योजना के लिए उसने सहर्ष आभार व्यक्त किया है।

सुदूर वनांचल क्षेत्र के शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय दोरनापाल की कक्षा बारहवीं के वाणिज्य संकाय के छात्र मोहित का हमारे नायक के रूप में चयन होने पर उद्योग एवं वाणिज्य(आबकारी) मंत्री कवासी लखमा, कलेक्टर चन्दन कुमार, जिला शिक्षा अधिकारी जे के प्रसाद, जिला मिशन समन्वयक श्यामसुंदर चैहान, कोन्टा बीईओ दीप, ब्लॉक नोडल श्रीनिवास वासु और शिक्षकों ने खुशी व्यक्त करते हुए छात्र मोहित के उज्ज्वल भविष्य की कामना की है।

loading…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Live Updates COVID-19 CASES