Hamar Chhattisgarh

छत्तीसगढ़ के पूर्व मंत्री डीपी घृतलहरे की बहू और 9 साल की पोती की बेरहमी से हत्या

रायपुर:खम्हारडीह इलाके के सतनाम चौक में छत्तीसगढ़ के पूर्व मंत्री डीपी घृतलहरे की बहू और 9 साल की पोती की बेरहमी से हत्या कर उनके शव को पलंग के कबर्ड में डालने के मामले में खम्हारडीह थाना पुलिस ने दो लोगों को हिरासत में लिया है।

पूर्व मंत्री के बेटे और महिला के पति तरुण से भी पूछताछ की गई। हत्या के कारणों का खुलासा नहीं हो सका है। महिला का नाम नेहा और उसकी 9 साल की बेटी का नाम अनन्या था। नेहा के घर वालों ने तरुण पर इस मर्डर की प्लानिंग का आरोप लगाया है।

अंदर छिपा बैठा था नंदोई और उसका दोस्त

मां-बेटी की हत्या को शनिवार शाम 7 से 8 बजे के बीच अंजाम दिया गया। मायके पक्ष ने पुलिस को बताया कि नेहा का फोन नहीं लग रहा था। इसलिए पास ही रहने वाली नेहा की बहन मेघा घर पर हालचाल जानने आई।

मेघा ने पुलिस को बताया कि दरवाजा बाहर से बंद था। लेकिन नेहा की स्कूटी और जूते यहीं पड़े थे। मेघा ने अपने एक भाई आकाश को फोन किया। इस बीच आकाश ने पुलिस को सूचना दी और दूसरी तरफ मेघा ने कुछ लोगों के साथ मिलकर दरवाजे की कुंडी तोड़ दी।

अंदर सभी लाइट्स बंद थीं। कमरे में नेहा का नंदोई डॉ आनंद राय और उसका एक साथी दीपक छुपे मिले। मेघा ने इन लोगों को पकड़ लिया। तब तक पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। घर के पिछले कमरे में बेड के गद्दे वगैरह बेतरतीब थे।

मेघा ने अपने रिश्तेदारों को फोन किया। सभी वहां पहुंच गए। बेड का कबर्ड हटाने पर अंदर नेहा और उसकी बेटी अनन्या की लाश मिली। दोनों के गले में स्पोर्ट्स शू के नीले रंग के लेस बंधे मिले और मुंह से झाग निकल रहा था। पुलिस ने डॉ आनंद और दीपक को हिरासत में लिया है। इनसे पूछताछ जारी है।

कोई गवाह न बचे इसलिए बच्ची को भी मारा

इस मामले में जांच कर रहे पुलिस अधिकारी ने बताया कि महिला को पहले मारा गया है। इसके बाद चूंकि बच्ची उस वक्त घर पर ही थी। उसने सब कुछ देख लिया इसलिए हत्यारों ने उसे भी नहीं छोड़ा और दोनों को मारकर पलंग में ठूंस दिया। एडिशनल एसपी लखन पटले ने बताया कि अब तक घटना के कारण साफ नहीं हो सके हैं। हम संदेहियों से पूछताछ कर रहे हैं।

Live Share Market

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Live Updates COVID-19 CASES